चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब यूनिवर्सिटी (पीयू) एफिलिएटेड कॉलेजों में अब गेस्ट शिक्षकों को कांट्रेक्ट पर ही रखा जाएगा। कॉलेजों में अस्थायी तौर पर नियुक्त किए जाने वाले असिस्टेंट प्रोफेसर को कांट्रेक्ट पर ही नियुक्त किया जाएगा। पंजाब यूनिवर्सिटी की सिंडीकेट बैठक में यह अहम फैसला लिया गया है। दिवाली से पहले ही पंजाब यूनिवर्सिटी एफिलिएटेड कॉलेजों में गेस्ट तौर पर पढ़ा रहे सैकड़ों गेस्ट टीचर्स के लिए यह बड़ा तोहफा है।

सिंडीकेट ने यह भी फैसला लिया है कि कांट्रेक्ट असिस्टेंट प्रोफेसर को हर हाल में यूजीसी द्वारा तय पे स्केल देना होगा। इस फैसले से सबसे अधिक पंजाब के करीब 180 कॉलेजों में कांट्रेक्ट पर नियुक्त गेस्ट फैकल्टी को सबसे अधिक फायदा होगा। मौजूदा गेस्ट शिक्षकों को 10 से 15 हजार वेतन दिया जाता है, साथ ही छुटिट्यों का वेतन भी नहीं मिलता। कांट्रेक्ट सिस्टम के तहत शिक्षकों को यह सभी लाभ मिलेंगे।

सिंडीकेट बैठक में कई अन्य प्रस्तावों पर सर्वसम्मति से मुहर लगा दी गई। उधर एक अन्य फैसले में सिंडीकेट ने एफिलिएटेड कॉलेजों में प्रिंसिपल की रिटायरमेंट उम्र 60 तय करने पर भी मुहर लगा दी गई है। प्रि‍ंसिपल प्रिन्टर लिए नियुक्ति आवेदन मंगाकर और इंटरव्यू के आधार पर होगी। उधर पीयू में 26 नए असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति प्रक्रिया को लेकर फैसला सिंडीकेट में नहीं हुआ। 

पीएचडी स्कॉलरशिप 20 से बढ़ाकर 40 हुई

पीयू सिंडीकेट ने पीएचडी स्कॉलरशिप की संख्या 20 से बढ़ाकर 40 करने पर भी सहमति दे दी है। इस संबंध में जल्द नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा। पीएचडी से जुड़ एक अन्य मामले में सिंडीकेट ने फैसला लिया है कि किसी भी पीएचडी स्कॉलर को थीसिस जमा करने के लिए आठ साल से अधिक का समय नहीं मिलेगा। सिंडीकेट में आए कुछ मामलों पर सिंडीकेट द्वारा सभी ऐसे मामलों में रिसर्च स्कॉलर को एक महीने के भीतर थीसिस जमा करने का समय दिया है।

सिंडीकेट में इन प्रस्तावों पर भी हुआ फैसला

  • सिंडीकेट ने 2019-20 सत्र के लिए 564.52 और 2020-21 के लिए 586.28 करोड़ के बजट को मंजूरी दे दी है।
  • पीयू और अन्य संस्थानों के बीच विभिन्न एमओयू को भी मंजूरी दे दी गई है।
  • पीयू स्थित म्यूजियम ऑफ फाइन आर्ट गैलरी के 500 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से आर्टिस्ट बुक करा सकेंगे। 5 हजार एडवांस सिक्योरिटी देनी होगी।
  • डिप्टी रजिस्ट्रार एससी तिवारी को ज्वाइंट रजिस्ट्रार बनाने का प्रस्ताव पास नहीं हुआ।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!