चंडीगढ़, जेएनएन। नगर निगम सोमवार से वेंडर्स को शिफ्ट करने के लिए उन्हें नोटिस देने की प्रक्रिया शुरू कर रहा है। अभी 3200 वेंडर्स को शिफ्ट किया जाएगा लेकिन नगर निगम को इतने ही वेंडर्स के लिए और जमीन की आवश्यकता है, जिसका अभी ड्रा निकालना है। इसके लिए नगर निगम के पास जमीन की कमी है। ऐसे में टाउन वेंडिंग कमेटी ने निर्णय लिया है कि इन वेंडर्स को बिठाने के लिए प्रशासन के वास्तुकार से नई जमीन की मांग की जाएगी।

उम्मीद जताई जा रही है कि नगर निगम के अधिकारी अगले सप्ताह नई जमीन के लिए प्रशासन को पत्र लिखेंगे और बताएंगे कि कहां पर वेंडिंग जोन बनाए जाएंगे। मालूम हो कि टाउन वेंडिंग कमेटी ने यह भी निर्णय लिया है कि जिन वेंडर्स का फीस जमा न होने के कारण लाइसेंस खारिज हो गया है, वे फिर से फीस जमा करवाकर अपना लाइसेंस रिन्यू कर सकते हैं। कमेटी ने निर्णय लिया है कि सबसे पहले एक से लेकर छह सेक्टर से वेंडर्स को शिफ्ट किया जाए। नगर निगम ने इन सेक्टरों को नो वेंडिंग जोन बनाने का फैसला लिया हुआ है जिसमे रॉक गार्डन और सुखना लेक जैसे पर्यटक स्थल भी शामिल हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!