चंडीगढ़ [राजेश ढल्ल]। शहर की सांसद किरण खेर ने कांग्रेस सहित अपने विरोधियों को जवाब दिया है जो कि यह अफवाह फैला रहे हैं इस मुश्किल की घड़ी में सांसद किरण खेर गायब हो गई है। खेर ने अपने फेसबुक अकाउंट में जवाब देते हुए कहा है कि वह चंडीगढ़ वासियों को आश्वस्त करना चाहती है कि उनकी सांसद उनके बीच ही मौजूद है। उनके मुंबई में होने की अफवाहों पर यकीन ना करें, क्योंकि लॉक डाउन वाले दिन से ही वह अपने चंडीगढ़ सेक्टर-7 स्थित घर में है। 

खेर ने आगे कहा है कि शहरवासियों की तरह वह भी इस लॉक डाउन का पालन कर रही है और सभी से अनुरोध करती है कि सभी खुद की और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए इस लॉक डाउन का पालन करें। उन्होंने कहा कि वह अपने घर से प्रशासन और नगर निगम के साथ मिल कर शहर वासियों लिए काम कर रही है। वह घर से बाहर निकल कर प्रशासनिक गतिविधियों में बाधा नहीं डालना चाहती। चंडीगढ़ वासियों की ज़रूरतों को पूरा करना हमारा कर्तव्य है। बस आप सब का सहयोग चाहिए। मालूम हो कि सांसद किरण खेर इससे पहले सेक्टर-32 के जीएमसीएच में अपने सांसद निधि कोष से वेटिंलेंटरस खरीदने के लिए एक करोड़ की राशि दे चुकी है।

विरोधी दलों ने उठाए थे सवाल

25 मार्च को प्रैस नोट जारी कर खेर की गैरमौजूदगी पर सवाल खड़े करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा ने कहा था कि ऐसी मुश्किल की घड़ी में जहां सांसद को शहर की जनता को दिक्कतों को दूर करने की प्राथमिक जिम्मेदारी थी और आज वह नदारद है। छाबड़ा ने कहा था कि थोड़ा सा फंड देकर वो बाकी की अपनी जिम्मेदारियों से भाग नहीं सकती है। आज जब इस मुश्किल के वक्त जहां सांसद किरण खेर को जनता के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने की जरूरत थी आज वो शहर से बाहर हैं। वह इतनी असंवेदनशील कैसे हो सकती हैं। इसके साथ साथ शहर के अलग अलग व्हाट्सअप ग्रुपों पर भी खेर के गायब होने पर कई लोगों ने आलोचना की है। जिस पर खेर ने एक सप्ताह बाद अपनी चुप्पी तोड़ी है।

कैंथ ने मेयर पर उठाया था सवाल तो वह उसके घर पहुंच गई थी

नगर निगम की मेयर राजबाला मलिक भी उस समय नाराज हो गई थी जब कांग्रेस पार्षद सतीश कैंथ ने इस आपदा की स्थिति में मेयर की कारगुजारी पर सवाल खड़ा किया था। कैंथ ने कमिश्नर को पत्र लिखकर कहा था कि मेयर शहर से गायब है। पत्र लिखने के कुछ घंटे बाद ही मेयर कैंथ के हल्लोमाजरा स्थित घर पर पहुंच गई थी और कहा कि वह शहर में ही काम कर रही हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!