जेएनएन, चंडीगढ़। पटियाला से सांसद डॉ धर्मवीर गांधी ने अपनी नई राजनीतिक पार्टी बनाने की दिशा में कदम बढ़ाया दिया है। उन्‍होंने इस कड़ी में पंजाब मंच की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि छह महीनों में प्रदेश के लोगों की नब्ज टटोलने के बाद वह नई राजनीतिक पार्टी का गठन करेंगे।

उल्लेखनीय है कि डॉ गांधी आम आदमी पार्टी की टिकट पर लोकसभा का चुनाव जीते थे। बाद में मतभेद होने पर पार्टी ने उन्हें निलंबित कर दिया था। गांधी ने कहा कि पंजाब के लोकतंत्र के लिए यह मंच संघर्ष करेगा और देश में संघीय ढांचे की रक्षा के लिए क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिल कर अलग कार्यक्रम बनाया जाएगा।

उन्‍होंने कहा कि पंजाब मंच के लिए दरवाजे सभी के लिए खुले हैं। किसी भी पार्टी के नेता इसमें शामिल हो सकते हैं। उन्होंने पंजाब सरकार की तरफ से लोगों पर टैक्स लगाने और पेट्रोल व डीज़ल की कीमतों में वृद्धि करने वाले बिल की कड़ी आलोचना की। उन्‍होंने कहा कि यह जनता के साथ नाइंसाफी है। इससे लोगों की मुसीबत और बढ़े्गी।

आप से निकालने को कई बार कहा

सांसद गांधी ने कहा कि वह कई आप लीडरशिप को कई बार कह चुके हैं उन्हें पार्टी से निकाल दे। लेकिन, पार्टी हाईकमान न तो पार्टी से उन्हें निकालता है और न अपने साथ रखता है। उन्‍होंने आम आदमी पार्टी से अभी इस्तीफ़ा देने से इन्कार किया।

ये हैं मंच के सदस्य

पंजाब मंच के प्रमुख सदस्यों में डॉ जगजीत चीमा, प्रो. बावा सिंह, प्रो. मलकियत सिंह सैनी, प्रो. रौणकी राम, सुखदेव सिंह, हरजीत कौर बराड़, गुरप्रीत गिल, दिलप्रीत गिल और डा. हरिंदर जीरा शामिल हैं।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!