मोहाली, जेएनएन। दो साल से पंजाब व राजस्थान पुलिस के मोस्ट वांटेड ड्रग तस्कर को सीआइए स्टाफ मोहाली ने गिरफ्तार कर लिया है। बदमाश की पहचान छिंदरपाल सिंह उर्फ छिंदी निवासी सीड फार्म अबोहर के तौर पर हुई है। पुलिस को आरोपित से एक पिस्टल, 3 जिंदा कारतूस व एक फॉ‌र्च्यूनर बरामद हुई है। आरोपित के खिलाफ थारा जीरकपुर में आ‌र्म्स एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपित को शुक्रवार को डेराबस्सी कोर्ट में पेश कर पांच दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

सीआइए स्टाफ को मिली थी गुप्त सूचना एसपी (डी) हरमनदीप सिंह हंस ने बताया कि सीआइए स्टाफ को गुप्त सूचना मिली थी कि ड्रग तस्करी और बॉर्डर पार से हथियारों की तस्करी के मामले में राजस्थान पुलिस के अलावा बीएसएफ का वांटेड अंबाला से चंडीगढ़ की ओर आ रहा है। सीआइए ने सूचना के आधार पर चंडीगढ़-अंबाला हाईवे पर डेराबस्सी सब डिवीजन में पड़ते गांव सताबगढ़ के पास नाकाबंदी की। आरोपित छिंदरपाल सिंह उर्फ छिंदी को फॉ‌र्च्यूनर में आते समय काबू कर लिया गया। पुलिस को देसी पिस्टल व कारतूस बरामद हुए हैं। पंजाब व राजस्थान में कुल 17 मामले दर्ज सीआइए इंचार्ज सुखबीर सिंह ने बताया कि छिंदरपाल सिंह उर्फ छिंदी के खिलाफ पंजाब व राजस्थान में अलग-अलग थानों में हथियारों की समगलिंग, ड्रग तस्करी के अलावा कुल 17 मामले दर्ज हैं। राजस्थान स्टेट ने छिंदी को गिरफ्तार करने के लिए इनाम भी घोषित किया हुआ था। पिछले दो साल से दोनों स्टेटों की पुलिस इसका पीछा कर रही थी। हर बार सूचना मिलने पर पुलिस की रेड से पहले वह फरार हो जाता था।

2012 में शुरू किया था धंधा, 2015 में पहला मामला हुआ था दर्ज

पुलिस पूछताछ में यह बात सामने आई है कि छिंदी ने 2012 में नशीले पदार्थो की तस्करी शुरू की थी। 2015 में पहली बार वह पांच किलो नशीले पदार्थ ले जाते गिरफ्तार हुआ था। जेल में जाकर उसने बॉर्डर पार के तस्करों के साथ संपर्क बना लिया और जमानत पर बाहर आ गया। जमानत पर बाहर आकर उसने जेल में बैठे बॉर्डर पार तस्करों के बताए हुए गुर्गो से संपर्क किया और उनसे हेरोइन व अवैध हथियारों की बड़ी खेप मंगवानी शुरू कर दी। हेरोइन व हथियारों की तस्करी वह पंजाब में अपने साथियों को डिलीवर करता था। बॉर्डर पर घर होने का उठाता था फायदा सीआइए के अनुसार आरोपित छिंदरपाल सिंह की पंजाब-राजस्थान सीमा के साथ लगते अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर क्षेत्र में रिहायश पड़ती है। जिसका उसने अपने कारोबार को चलाने में खूब फायदा उठाया। ¨छदी कई बार बड़ी हेरोइन की खेप बॉर्डर पार से हासिल कर चुका है जिस कारण वह बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स का भी वांछित था।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!