जेएनएन, चंडीगढ़। कुछ दिन पहले नाबालिग लड़की के पेट में अचानक दर्द हुआ तो उसे अस्पताल ले जाया गया। इस बीच उसने रास्ते में ही प्री मेच्योर बच्ची को जन्म दिया। लड़की ने बताया कि उसका पिता अपने दोस्त के साथ मिलकर उससे दुष्कर्म करता था।

हालत में सुधार के बाद पीड़िता के 164 के तहत बयान दर्ज किए गए। उसने बताया कि उसका पिता व दोस्त उसे किसी को भी इसके बारे में नहीं बताने की धमकी भी देते थे। बयान दर्ज करने के बाद पुलिस ने आरोपित पिता को गिरफ्तार कर लिया है। दूसरे आरोपित दोस्त की तलाश जारी है।

तीन दिन पूर्व हल्लोमाजारा एरिया में परिवार के साथ रहने वाली 14 वर्षीय नाबालिग के पेट में तेज दर्द उठा था। जीएमसीएच-32 में ले जाते समय अस्पताल के बाहर ही नाबालिग के पेट में भयंकर दर्द होने लगा और वह बाहर ही बैठ गई। नाबालिग ने बाहर ही गाड़ी के पीछे छह महीने के प्री-मेच्चोर बच्ची को जन्म दिया। उसके बाद पीड़िता बेहोश हो गई और उसका इलाज चल रहा है।

10 साल की बच्ची से दो मामा ने किया था दुष्कर्म, हो चुकी है ताउम्र कैद

जुलाई 2017 में चंडीगढ़ सेक्टर-37 एरिया में 10 साल की बच्ची के साथ उसके दो मामाओं ने दुष्कर्म किया था। उसके बाद बच्ची प्रेग्नेंट हो गई थी और उसने एक बच्ची को भी जन्म दिया था। मामले की सुनवाई करते हुए फास्ट ट्रैक कोर्ट ने दोनों को ताउम्र सलाखों में रहने की सजा सुनाई थी। पैदा हुई बच्ची को बाद में कानूनी तौर पर मुंबई की एक बड़ी फेमिली लेकर चली गई थी।

यह भी पढ़ेंः साले के कत्ल के बाद नाबालिग लड़की के साथ फरार हुआ जीजा, कई दिनों तक करता रहा

By Kamlesh Bhatt