चंडीगढ़, एएनआई। हाल में बड़े स्कैम का शिकार हुई पंजाब एवं महाराष्ट्रा कोऑपरेटिव (पीएमसी- PMC Bank) बैंक में चंडीगढ़ के कई गुरुद्वारों का पैसा भी फंस गया है। चंडीगढ़ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष ने भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से अपील की है कि वह इस बैंक में जमा गुरुद्वारों का कम से कम पचास फीसद पैसा विशेष केस के रूप में तुरंत रिलीज करवाए।

मंगलवार को चंडीगढ़ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी, सेक्टर 8 के अध्यक्ष एसएस कोहली ने कहा कि कहा कि बैंक में घोटाला होने का गुरुपर्व से पहले यहां के गुरुद्वारों पर भी असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अगर मैं गलत नहीं हूं तो यहां के कई गुरुदारों का काफी सारा पैसा इस बैंक में जमा था। इसी कारण उन्होंने आरबीआई से आधा पैसा रिलीज करने की मांग की है। अगर ऐसा न हुआ तो आगामी गुरुपर्व समारोहों पर बुरा असर पड़ सकता है।

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी भी मांग रही अपने पैसे

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। पंजाब एंड महाराष्ट्र कोआपरेटिव (पीएमसी) बैंक में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीपीसी) सहित कई गुरुद्वारों के भी पैसे भी फंस गए हैं। सोमवार को डीएसजीपीसी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने आरबीआइ से पीएमसी बैंक को कब्जे में लेकर खाता धारकों को पैसे वापस दिलाने की मांग की थी। सिरसा ने कहा था कि बैंक के पास आरबीआइ का लाइसेंस था, जिस वजह से आम जनता और गुरुद्वारा कमेटियों ने उसमें पैसे जमा कराए थे। गुरुद्वारा कमेटियों ने लगभग 100 करोड़ रुपये बैंक की शाखाओं में जमा कराए थे। अब उन्हें 25-25 हजार रुपये निकालने की अनुमति दी जा रही है। शेष पैसे छह माह बाद देने की बात की जा रही है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!