जेएनएन, चंडीगढ़। अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि 1984 के दंगे में राजीव गांधी की भूमिका की जांच होनी चाहिए, क्योंकि कांग्रेस के लीडर व 1984 दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर ने भी अपने एक ऑडियो में कहा है कि राजीव गांधी और वह खुद दंगों के बाद गाड़ी से उन इलाकों का दौरा करने गए थे जहां दंगे हुए।

सुखबीर बादल ने कहा कि नानावती आयोग की रिपोर्ट भी यह कहती है कि राजीव गांधी जिन जगहों पर दौरा करने के लिए गए वहां पर सबसे ज्यादा कत्लेआम हुआ। सुखबीर बादल ने कहा कि आज इस बात की जांच करने की आवश्यकता है कि 84 के दंगों में राजीव गांधी की क्या भूमिका थी। वहीं, सुखबीर बादल ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार कांग्रेस मदद कर रही है।

जगदीश टाइटलर के साथी अभिषेक वर्मा जो कि हथियारों के डीलर हैं और इन दिनों जेल में बंद है उसने भी अपना नारको टेस्ट करवाने की बात कही थी, लेकिन 3 माह बीत जाने के बावजूद अभी तक दिल्ली सरकार ने अभिषेक वर्मा का नारको टेस्ट नहीं करवाया, जबकि कोर्ट ने भी अभिषेक वर्मा का नारको टेस्ट कराने की बात कही है।

सुखबीर ने किया कैप्टन अमरिंदर सिंह का समर्थन

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा राजकीय वित्तीय व्यवस्था को सुधारने के लिए विधायकों से की गई अपील कि विधायकों को अपना इनकम टैक्स खुद भरना चाहिए। इस मामले में आज अकाली दल के प्रधान व पूर्व डिप्टी मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कैप्टन को अपना समर्थन दे दिया है।

सुखबीर बादल ने कहा कि अकाली दल के विधायक अपना इनकम टैक्स भरने के लिए तैयार हैं। अहम बात यह है कि एक तरफ जहां आम आदमी पार्टी के नेता सुखपाल सिंह खैहरा भी कैप्टन का समर्थन तो कर  रहे हैं लेकिन वह कैप्टन के ओएसडी व अन्य खर्चों पर भी सवालिया निशान उठा रहे हैं , जबकि अकाली दल के प्रधान ने ऐसा कोई भी सवाल नहीं उठाया और सीधे-सीधे अपना समर्थन दिया।

यह भी पढ़ेंः गृह मंत्री से मिलीं हरसिमरत कौर, टाइटलर की गिरफ्तारी की मांग की

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!