जागरण संवाददाता, मोहाली। मोहाली नगर निगम की बैठक कल यानि मंगलवार को होने जा रही है। शहर में सफाई का ठेका इस बार निजी कंपनी को देने पर विचार हो रहा है। नगर निगम की बैठक में इस पर चर्चा की जाएगी। नगर निगम सफाई कर्मचारी ठेके पर भर्ती करेगा। निगम के मेयर अमरजीत सिंह जीती सिद्धू की अगुआई में होने वाली बैठक में शहर की सफाई और सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की देखभाल की जरूरत के हिसाब से कर्मचारियों की भर्ती करने पर चर्चा होगी।

प्रस्ताव के मुताबिक नगर निगम ने पांच अधिकारियों की कमेटी के अनुसार शहर में सफाई के काम के लिए 1344 सफाई सेवक, 25 सेनेटरी कर्मी और 73 सीवरमैनों की जरूरत है। जबकि सफाई सेवकों के लिए 450, सेनेटरी इंस्पेक्टरों की 8 और सीवरमैनों के 80 पद मंजूर हैं। इन मुलाजिमों की सीधी भर्ती के लिए प्रस्ताव पेश किया जाएगा। जिसके तहत सफाई सेवकों की 844 और सेनेटरी सफाई कर्मियों की 17 पदों और अन्य मुलाजिमों की भर्ती की जाएगी। सार्वजनिक शौचालय में ठेकेदारों के पास कम कर रहे मुलाजिमों को भी निगम में लाने की मांग भी पूरी हो जाएगी।

निगम की मीटिंग में एक प्रस्ताव पास करके शहर के विकास में स्वच्छ भारत मिशन के जोन में बांटा जाएगा। साथ ही नगर निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों की जोन के हिसाब से तैनाती की जाएगी। इसमें चार जोन बनाए गए हैं। इसी तरह सिविल, हार्टिकल्चर, सेनिटेशन, बिजली, वाटर सप्लाई और सीवरेज के लिए भी जोन बनाए जाएंगे। इन जोन के बनने से अधिकारियों और कर्मचारियों का काम बेहतर होगा।  निगम की गोशाला संभालने वाली संस्था को की जाने वाली अदायगी बढ़ाने संबंधी फैसला लिया जाएगा। पहले उन्हें 13 रुपये प्रति जानवर के हिसाब से भुगतान हो रहा था। अब उन्हें 22 रुपये प्रति जानवर किया जाएगा। शहर में लावारिस कुत्तों की नसबंदी संबंधी टेंडर जारी करने और 300 पशु नई गोशाला में शिफ्ट करने, नगर निगम के एरिया में आती सोसायटीज के काम संबंधी प्रस्ताव लाया जाएगा। इसके अलावा फेज-7 और 8 की सड़कों के निर्माण पर ढाई करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

Edited By: Ankesh Thakur