चंडीगढ़, [शंकर सिंह]। बुधवार को सोशल साइट्स पर सभी ने एक तस्वीर शेयर की। ये तस्वीर एक ही शख्स की थी, जिसके साथ ज्यादातर लोग उदास वाली स्माइली शेयर कर रहे थे। ये थे अदाकार इरफान खान, जिनको वो भी श्रद्धांजली दे रहा था, जो कभी एक्टिंग, फिल्म यहां तक की टीवी से भी न जुड़ा हो। सबको पता था कि एक बेहतरीन कलाकार अब हमारे बीच नहीं रहा। सोशल साइट्स जहां उनकी तस्वीरों से भर गया, वहीं शहर से जुड़ी उनकी खूबसूरत यादें भी ताजा हुई। शहर से जुड़े कलाकारों ने साझा किया इरफान के साथ अपना अनुभव।

तुम्हारी तो जरूरत थी इंडस्ट्री को

गायक जसबीर जस्सी ने इरफान को याद करते हुए कहा कि इरफान भाई से मुंबई में मुलाकात होती रहती थी। तिगमांशु धूलिया जब भी पार्टी देते, तो वो भी साथ रहते। ऐसे में उनके साथ अकसर बातचीत होती। कई बार काम के सिलसिले में भी मिला, वह स्क्रिप्ट में जान डाल देते थे। किरदार को सोच से ऊपर उठाकर उसमें अभिनय के ऐसे रंग भरते थे कि वो किरदार यादगार हो जाता था। वो बहुत पढ़ते थे, ऐसे में उनसे कई तरह की किताबें और कला से जुड़ी चीजों के बारेमें पता चलता था। उनका जाना, केवल एक दोस्त का नहीं बल्कि फिल्म इंडस्ट्री के लिए सबसे बड़ा नुकसान था, उनकी इंडस्ट्री में बहुत जरूरत थी।

किरदार की रुह पकड़ लेते थे वो, काम करने का मौका मिला

प्रोड्यूसर दर्शन औलख ने इरफान से जुड़ी यादें साझा करते हुए कहा कि वर्ष 2008 में वह चंडीगढ़ आए थे। हमारे प्रोडक्शन में फिल्म पार्टिशन बननी थी, जिसमें उनका किरदार सरदार का था। फिल्म में मेरा भी छोटा किरदार था। फिल्म की शूटिंग कुराली के पास और जयंती मंदिर के इर्द गिर्द हुई थी। उनके साथ ऐसा लगता ही नहीं था कि वह इतने बड़े कलाकार हैं। वो आपको सहज रखते थे। फिल्म में मेरा भी छोटा सा किरदार था। ऐसे में उनके साथ काम करने का सुनहरा मौका मुङो मिला।

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!