जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। फेडरेशन ऑफ सेक्टर्स वेलफेयर एसोसिएशन ऑफ चंडीगढ़ (फॉसवेक) की रविवार को सेक्टर-36 के कन्वेंशन सेंटर में बैठक बुलाई गई। जिसमें शहर की रेजिडेंट्स व मार्केट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया। फॉसवेक के चेयरमैन बलजिंदर सिंह बिट्टू ने हाउस को बताया कि आगामी वित्त वर्ष में नगर निगम द्वारा संपत्ति कर (हाउस टैक्स) में 10 फीसदी की बढ़ोतरी संभावित है। जिसपर सभी सदस्यों ने कड़ा विरोध जताया। बिट्टू ने कहा कि स्मार्ट सिटी के नाम पर लोगों पर अनावश्यक टैक्स लगाए जा रहे हैं। स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट शहर में लाना तो दूर लोगों को मूलभूत सुविधाएं ही उपलब्ध नहीं हो रही हैं। फॉसवेक के महासचिव जेएस गोगिया ने कहा की यदि नगर निगम व प्रशासन स्वच्छता की रैंकिंग में चंडीगढ़ को ऊपर उठाना चाहते हैं। इसके लिए ऑन-द-स्पॉट ही गीला व सूखा कचरा अलग-अलग करवाना होगा। नगर निगम को इसके लिए शहर की सभी आरडब्ल्यू के साथ मिलकर काम करना चाहिए।

पेवर ब्लॉक लगाने का अच्छा कदम : गुप्ता

फॉसवेक के मुख्य प्रवक्ता एवं सेक्टर-38 वेस्ट के आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष पंकज गुप्ता ने कहा कि अगली मीटिंग में फॉसवेक चंडीगढ़ से एमपी के सभी उम्मीदवारों को एक प्लेटफार्म पर बुलाने का प्रयास करेगी और चंडीगढ़ की समस्याओं से संबंधित सभी राजनीतिक पार्टियों के उम्मीदवारों को 'चार्टर ऑफ डिमांड्ज' दिया जाएगा। नगर निगम ने सेक्टर की अंदरूनी वी-6 सड़कों पर पेवर ब्लॉक न लगाने का अच्छा कदम उठाया है। परंतु इस निर्णय की वजह से जो चलते हुए काम बीच में लटक गए हैं, उन्हें समीक्षा करके या तो शीघ्र पूरा किया जाए या यथास्थिति में लाया जाए।

डंपिंग ग्राउंड शहर के लिए बड़ा खतरा : चौधरी

रेजिडेंट्स यूनाइटेड फ्रंट सेक्टर-38 वेस्ट के प्रधान केएस चौधरी के अनुसार डड्डूमाजरा स्थित डंङ्क्षपग ग्राउंड न केवल उसके आसपास रहने वाले बल्कि चंडीगढ़ के सभी निवासियों के लिए एक बड़ा खतरा है। जिसका समाधान शीघ्र निकाला जाना चाहिए। सेक्टर-39 बी आरडब्ल्यूए के प्रधान अमरदीप सिंह के अनुसार चंडीगढ़ हाउङ्क्षसग बोर्ड ने घरों में बदलाव की जो छूट दी है और जिन शर्तों पर दी है। वह अर्थहीन है।

पूरा सेक्टर कमर्शियल सेंटर में तबदील : मोहन

सेक्टर-22 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष राजेंद्र मोहन कश्यप ने कहा की सेक्टर-22 और 15 में नगर निगम ने इतने वेंडर्स को जगह दे दी है कि पूरा सेक्टर ही कमर्शियल सेंटर में तबदील हो गया है। इन सेक्टरों में लोगों का रहना बहुत मुश्किल हो गया है। मुख्य सलाहकार कमलजीत सिंह पंछी के अनुसार चंडीगढ़ में लॉ एंड ऑर्डर और ट्रैफिक की समस्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। सलाहकार सरपाल सिंह ने कहा चंडीगढ़ में पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को और अधिक मजबूत करने की आवश्यकता है।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!