जागरण संवाददाता, मोहाली। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मोहाली, खरड़ और कुराली में हेल्थ सेप्लीमेंट बनाने और बेचने वाली दुकानों व फैक्ट्रियों पर शुक्रवार को छापामारी की। दिल्ली से पहुंची फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ज अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआइ) के ज्वाइंट डायरेक्टर डॉ. बीएस आचार्या के साथ जिला सेहत अधिकारी डॉ. सुभाष कुमार, फूड सेफ्टी अफसर रविनंदन गोयल आदि की टीम ने ये छापेमारी की।

डॉ. बीएस आचार्या ने बताया कि चेकिंग के दौरान केनडीजेंड की दस हजार गोलियां जब्त की गई। क्योंकि गोलियां खुराक सुरक्षा कानून नियमों के मुताबिक नहीं थी। इस तरह डैमसी 500 गोलियां भी नियमों के मुताबिक नहीं बनी हुई थी जिस कारण कंपनी को ये गोली बाजार से वापस मंगवाने के निर्देश दिए गए।

डॉ. आचार्या ने बताया कि डैमसी 500 गोलियों की तलाश में कई अन्य जगहों पर भी तलाशी ली गई। कुराली में एक फैक्ट्री की जांच की गई, जिसको नोटिस जारी किया गया है। क्योंकि फैक्ट्री में मिले सेप्लीमेंट नियमों के मुताबिक नहीं थे। डॉ. आचार्या ने कहा कि फूड एंड एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) गलत या गुमराह ब्रांड वाले हेल्थ सप्लीमेंट्स के उत्पादन व ब्रिकी विरुद्ध चौकस है। नियमों पर खरा न उतरने वाली कंपनियों पर कार्रवाई की जा रही है। वहीं जिला सेहत अधिकारी डॉ. सुभाष कुमार ने सप्लीमेंट बनाने वाली कंपनियों को निर्देश दिए कि वे नियमों की पालना करें। जो फैक्ट्रियां सप्लीमेंट का उत्पादन करती हैं अगर वे नियमों का पालन नहीं करती तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Ankesh Thakur