आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। Har Ghar Tiranga: सिटी ब्यूटीफुल चंडीगढ़ में आज अनोखा नजारा दिखा, जो शायद आज से पहले चंडीगढ़ के लोगों ने कभी नहीं देखा होगा। इसके साथ ही यह वर्ल्ड रिकार्ड भी बना है। शहर का नाम आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान 5885 लोगों ने एकसाथ खड़े होकर ह्यूमन फ्लैग बनाया है। यह रिकार्ड गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल हो सकता है।

शहर के सेक्टर-16 क्रिकेट स्टेडियम में शनिवार सुबह साढ़े 10 बजे शहरवासियों ने एकजुट होकर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ह्यूमन फ्लैग बनाया। इसके लिए 5885 लोग एकसाथ तिरंगे की शकल में दिखे। सुबह करीब साढ़े 10 बजे लोग ह्यूमन फ्लैग बनाने के लिए जुटे थे। इस इवेंट में चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स शामिल हुए थे। हवा में तिरंगा उड़ने जैसी आकृति बनाई। यह अपने आप में एक खास पल था।

इस दौरान पूरा क्रिकेट स्टेडियम चौके छक्कों के शोर नहीं बल्कि भारत माता की जय और वंदे मातरम जैसे नारों से गुजने लगा। इस नजारे को देखकर लोगों ने देशभक्ति की भावना जागृत हुई।

मुख्यतिथि के तौर पर प्रशासक हुए शामिल

चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित इस कार्यक्रम के मुख्यातिथि के तौर पर शामिल हुए। जबकि विदेश एवं सांस्कृतिक राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी विशेष अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में मौजूद रहीं। यह कार्यक्रम यूटी प्रशासन ने चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर आयोजित किया। इस इवेंट को के लिए लगभग डेढ़ महीने से तैयारी चल रही है। बताया जा रहा है कि इस मौके पर गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड्स की टीम भी मौजूद रही।

दुबई में बना था रिकार्ड

बताते चलें कि इससे पहले साल 2017 में दुबई में 4130 लोगों ने ऐसा रिकार्ड बनाया था। 28 नवंबर 2017 को जीईएमएस एजुकेशन (यूई) की तरफ से आबुधाबी में लोगों ने इसी तरह का लहराता हुआ ह्यूमन फ्लैग बना यह रिकार्ड बनाया था।

जनभागीदारी और देशप्रेम की पेश की मिसाल

यह कार्यक्रम लोगों के दिलों में राष्ट्र प्रेम की भावना जागृत करने के लिए आयोजित किया गया था। साथ ही सबसे बड़ी जनभागीदारी का प्रतीक भी साबित हुआ। सभी प्रतिभागियों ने बारी बारी से इस तरह एक्ट किए, जिससे ऐसा प्रतीत हुआ कि तिरंगा हवा में लहरा रहा है। 75वें स्वतंत्रता दिवस को लेकर आजादी का अमृत महोत्सव लोगों को एकजुट करने के लिए ही आयोजित किया रहा है।

Edited By: Ankesh Thakur