चंडीगढ़, जेएनएन। हरियाणा रोडवेज के एक चपरासी सतबीर पर जॉब दिलाने के नाम पर युवती ने चंडीगढ़ में बुलाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। आरोपित को केस दर्ज होने की सूचना मिलने पर हार्ट में प्रॉब्लम आने की वजह से तुरंत पीजीआइ में भर्ती करवाया गया। सेक्टर-19 थाना पुलिस ने पीडि़ता का मेडिकल करवाने के बाद उसके बयान भी दर्ज कर लिए हैं।

थाना पुलिस पीजीआइ से छुट्टी मिलने के बाद आरोपित को गिरफ्तार करेगी। शिकायतकर्ता युवती हरियाणा की रहने वाली है। उसने शिकायत में बताया कि हरियाणा रोडवेज में चपरासी के पद पर कार्यरत व्यक्ति ने उसकी जॉब लगवाने की बात कही थी। इसी संबंध में आरोपित ने चंडीगढ़ बुलाया और मौका पाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। किसी तरह से बचकर उसने तुरंत शिकायत परिजनों और पुलिस को दी।

छेड़छाड़ के मामले में नाबालिग बरी
जिला अदालत ने सुबूतों के अभाव में नाबालिग से छेड़छाड़ करने के मामले में नाबालिग को बरी कर दिया। इससे पहले जुवेनाइल कोर्ट से नाबालिग को एक साल की सजा हुई थी जिसे बचाव पक्ष के वकील ईशान डोगरा ने जिला जज पूनम आर जोशी की कोर्ट में चुनौती दी थी। डोगरा ने बताया कि मामले में पीडि़त पक्ष ने तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। बाकी के दो युवक पहले ही बरी हो चुके हैं। डोगरा ने कोर्ट में दलील दी थी कि पीडि़ता ने नाबालिग को मामले में फंसाया था। क्योंकि वह पहले बरी हुए दो युवकों की रिश्तेदारी से थी और उनके साथ पीडि़ता पक्ष का पहले से ही झगड़ा चला हुआ था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!