जागरण संवाददाता, मोहाली। फेज-3बी1 में किराये के मकान में रहने वाली 30 साल की अमरप्रीत कौर ने फंदा लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। वजह सिर्फ इतनी कि वह कई प्रयासों के बाद भी कनाडा नहीं जा सकी थी।

रविवार को साथ रहने वाली युवती ने जब खिड़की से झांककर देखा तो उसे अमरप्रीत पंखे से लटकी दिखी। उसने शोर मचाया, तो आसपास के लोग एकत्र हो गए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतारा। मौके से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें अमरप्रीत ने खुद को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया है। साथ ही, अपने पापा से माफी मांगी है। पुलिस ने शव फेज-6 स्थित सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। अमरप्रीत मूल रूप से अजनाला, अमृतसर की रहने वाली थी। 

कनाडा जाकर पैसा कमाने की थी चाहत

विवेचना अधिकारी सुरजीत सिंह ने बताया कि अमरप्रीत कौर पिछले काफी समय से मोहाली में रहकर आइलेट्स की तैयारी कर रही थी। इससे पहले वह दो बार यह टेस्ट दे चुकी थी, लेकिन उसके उतने बैंड नहीं आ पाए थे, जिससे वह आसानी से कनाडा जा सके। तीसरी बार भी सही बैंड नहीं ले पाई। बाकायदा उसने अपने दोस्तों से भी यह बात शेयर की थी। वह मोहाली में प्राइवेट जॉब भी कर रही थी। मृतका के पास जो सुसाइड नोट मिला है, उसमें लिखा है कि पापा मैंं आपके सपनों को पूरा नहीं कर सकी। इसलिए मुझे माफ कर देना। मैं जा रही हूं। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!