जागरण संवाददाता, मोहाली : मोहाली व जीरकपुर में नामी होटल व पब पर गोलियां चलाकर उनके मालिकों से रंगदारी मांगने के मामले में सोहाना पुलिस ने सीआइए स्टाफ की मदद से एक गैंगस्टर को गिरफ्तार किया है। आरोपित गैंगस्टर की पहचान अश्वनी कुमार उर्फ सरपंच निवासी गांव खिदराबाद थाना पेहवा जिला कुरूक्षेत्र (हरियाणा) के रूप में हुई है। आरोपित से पुलिस को .30 बोर, .32 बोर व .315 बोर के छह पिस्टल, .22 बोर का एक 1 रिवाल्वर, 25 कारतूस व एक मोहाली नंबर एक्टिवा बरामद हुई है। आरोपित को 11 जून 2022 एफआइआर नंबर-278 में गिरफ्तार किया था। पूछताछ में यह बात सामने आई है कि गैंगस्टर अश्वनी उर्फ सरपंच अपने साथी प्रशांत हिदरव निवासी गांव हासूपुर जिला हापुर यूपी के साथ मिलकर रंगदारी व लूटपाट की वारदातों को अंजाम देता था। आरोपित प्रशांत हिदरव अभी दिल्ली तिहाड़ जेल में बंद है जिसे सोहाना पुलिस प्रोडक्शन वारंट पर मोहाली लाएगी। वहीं, गैंगस्टर अश्वनी कुमार को मोहाली कोर्ट में पेश किया गया, जहां अदालत ने उसे छह दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

पूर्व सेहत मंत्री के करीबी के पब पर चलाई थी गोयिलां, मांगी थी रंगदारी

गैंगस्टर अश्वनी ने पूछताछ में बताया कि उसने अपने साथी प्रशांत हिदरव के साथ मिलकर 10 मार्च को सेक्टर-80 में ब्रयू ब्रास पब पर गोलियां चलाई थी। ब्रूय ब्रास पब का मालिक हरप्रीत सिंह पूर्व सेहत मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू का बेहद करीबी है। गैंगस्टरों ने पब मालिक हरप्रीत सिंह से 40 लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी। उन्होंने वाट्सएप काल करके हरप्रीत से कहा था कि वह नामी गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई ग्रुप से बोल रहे हैं और उनके बारे में फेसबुक पर चेक कर लेना। उन्होंने रंगदारी न देने की एवज में अंजाम भुगतने की धमकी दी थी। पब मालिक ने इस धमकी को हलके में लिया और 11 मार्च को रात साढ़े 11 बजे मोटरसाइकिल पर आए दो युवकों ने उसके पब पर गोलियां चला दी थी, जोकि पब के फ्रंट शीशे पर लगी थी। आरोपितों के खिलाफ सोहाना थाने में आइपीसी की धारा 386, 427, 506, 34 व आ‌र्म्स एक्ट और इंफर्मेशन टेक्नोलाजी एक्ट की धारा 67 के तहत मामला दर्ज किया था। दोनों गैंगस्टरों को उक्त मामले में नामजद कर लिया गया है। वहीं, आरोपितों की पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि जीरकपुर के होटल जी-रीजेंसी पर भी उन्होंने ही गोलियां चलाकर रंगदारी मांगी थी। लांडरां में ज्वैलर्स से सोने व डायमंड के बैग लूटने में भी अश्वनी था शामिल

गैंगस्टर अश्वनी लांडरा में प्रेम ज्वेलर नाम के सुनार से गन प्वाइंट पर सोने व डायमेंड के बैग छीनकर ले गया था, जिनकी कीमत छह लाख रुपये थी। उन्होंने लूट की वारदात के दौरान हवाई फायर किए थे और सुनार परवीन की आंखों में मिर्च पाउडर डाल दिया था। गैंगस्टर अश्वनी ने अपने चार साथियों के साथ इस लूट की वारदात को अंजाम दिया था। अश्वनी उर्फ सरपंच को पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार किया था। उसके साथी पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं। इस मामले में भी उक्त आरोपितों के खिलाफ सोहाना थाने में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज हुआ था। अश्वनी से अब तक 21 गैर कानूनी हथियार बरामद

पुलिस अश्वनी से अब तक 21 गैर कानूनी हथियार बरामद कर चुकी है। अश्वनी पंजाब में अलग-अलग गैंगस्टरों को हथियार सप्लाई करता था। उसके खिलाफ थाना गढ़शंकर जिला होशियारपुर में आ‌र्म्स एक्ट, स्पेशल सेल दिल्ली में आ‌र्म्स एक्ट व आइपीसी 386,353, 34 के तहत मामला दर्ज है। वहीं गैंगस्टर प्रशांत हिदरव के खिलाफ थाना अंबाला में आइपीसी 302, 307, 120बी व थाना त्रिपड़ी जिला पटियाला में 392, 307, 148, 149 के तहत मामला दर्ज है। पुलिस ने गैंगस्टर अश्वनी से एक एक्टिवा बरामद किया है जोकि दुर्गा प्रसाद निवासी कुशाल एनक्लेव जीरकपुर के नाम पर रजिस्टर्ड है। जिसे आरोपितों ने जी-रीजेंसी की वारदात में इस्तेमाल किया था। वहीं एक हुड व पेंट भी बरामद की है जो वारदात के समय पहनी हुई थी।

Edited By: Jagran