जागरण संवाददाता, मोहाली : आर्गेनाइजड क्राइम कंट्रोल यूनिट की टीम ने अब संपत नेहरा गैंग के चार कुख्यात गैंगस्टरों को पकड़ने का दावा किया है। यूनिट के मुताबिक गैंगस्टर हथियार व बिना नंबर की कार सहित पकडे़ गए हैं। उनकी पहचान सोनू कुमार निवासी ढाबी गुजरा (संगरूर), करण कुमार उर्फ विपन कुमार निवासी बनूड़ (मोहाली), मनप्रीत निवासी जलालाबाद व गौरव निवासी झासला (बनूड़) के रूप में हुई। उनसे दो पिस्टल, कारतूस व बिना नंबर की एक कार भी बरामद की गई। आरोपित इस कार का इस्तेमाल लूटपाट व किडनैपिंग जैसे संगीन मामलों में इस्तेमाल करते थे। यूनिट के आईजी कुंवर विजय प्रताप सिंह ने आरोपितों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

डीएसपी जसकीरत सिंह ने बताया कि उनको गुप्त सूचना मिली थी कि गैंगस्टर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। उनके अनुसार लारेंस बिश्नोई व संपत नेहरा की गिरफ्तारी के बाद इस गैंग का दबदबा कम होता जा रहा था। गैंग का दबदबा दोबारा कायम रखने के लिए नाभा जेल में बंद बनूड़ निवासी कुख्यात गैंगस्टर दीपू व संपत नेहरा के खास शॉर्प शूटर दीपक उर्फ टीनू की उनको फरार करवाने की योजना था। उसी कारण वे पिछले दिनों से रैकी कर रहे थे। पुलिस ने ट्रैप लगाकर उक्त आरोपियों को गिरफ्तार का लिया। पांच गैंगस्टर को पिछले हफ्ते किया था गिरफ्तार

बीते मंगलवार देर शाम सेक्टर-70 निवासी वरिंदर कुमार को अगवा करने के मामले में भी सीआईए स्टाफ पुलिस ने पाच आरोपित रमनदीप सिंह निवासी गाव खडूर जिला फिरोजपुर, शुभनवदीप सिंह उर्फ शुभ निवासी गाव मंडियाला जिला अमृतसर, जसप्रीत सिंह व गुरविंदर सिंह उर्फ गुरी (बिंदरी) दोनों निवासी गाव केसरी जिला अंबाला (हरियाणा) व दिनेश कुमार निवासी हरपालू ताल जिला चुरु (राजस्थान )को गिरफ्तार किया था। यह गिरोह भी दीपक उर्फ टीनू को जेल से भगाने के लिए कई गतिविधियों पर काम कर रहा था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!