जेएनएन, चंडीगढ़। वंदे भारत मिशन के तहत चंडीगढ़ इटंरनेशनल एयरपोर्ट (Chandigarh International Airport) पर शुक्रवार को न्यूयार्क से आई पहली फ्लाइट ने लैंड किया। इस फ्लाइट में 100 यात्री सवार थे। इनमें सबसे ज्यादा यात्री पंजाब के थे। इसके अलावा हरियाणा, चंडीगढ़, हिमाचल और उत्तराखंड से भी कुछ यात्री थे। एयरपोर्ट पर पहुंचते ही सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई। मोहाली के सिविल सर्जन मनजीत ने बताया किसी भी यात्री में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं पाए गए। इसके बाद यात्रियों ने एयरपोर्ट से निकलना शुरू कर दिया है।

विदेशों में फंसे पंजाबियों ने अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचकर कहा कि हम बहुत खुश हैंं कि वापस अपने देश लौट आए हैंं। न्यूयार्क से लौटने वाले इन यात्रियों में कुछ वहां पर घूमने गए थे, कुछ परिवारिक समारोह में हिस्सा लेने तो कुछ वहां पर पढ़ाई व जॉब कर रहे थे, लेकिन कोरोना वायरस के कारण अचानक हालत बिगड़ने के बाद लगे लॉकडाउन की वजह से वह वहीं पर फंस गए। फिलहाल इन सभी के पासपोर्ट ले लिए गए हैं। इनको सख्त हिदायतें दे दी गई हैं कि उनको 14 दिन क्वारंटाइन पीरियड में रहना होगा अगर कोई भी इनमें से गाइडलाइंस की पालना न करता हुआ पाया गया तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

14 दिन क्वारंटाइन रहने के बाद मिलेगी घर जाने की अनुमति

चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट के प्रवक्ता प्रिंस ने बताया कि न्यूयार्क से आने वाले सभी यात्रियों की मेडिकल जांच एयरपोर्ट पर की गई, इनमें कोई भी संदिग्ध नहीं दिखा है। अब इन यात्रियों की जानकारी उनके प्रदेश अधिकारियों को दे दी गई है। जहां वह अपने गृह राज्य में 14 दिन तक क्वारंटाइन रहने के बाद अपने घर जा सकेंगे।

यह भी पढ़ें: अवैध शराब मामले पर घिरी सरकार, खुफिया तंत्र फेल या नेताओं, प्रशासन पर माफिया भारी

यह भी पढ़ें: कांस्टेबल बेटी ने दिखाई पिता को खाकी की ताकत, लव मैरिज का विरोध करने पर खोल दी पोल

यह भी पढ़ें: Technology का इस्तेमाल, Digital india में दिखी हरियाणा के डिजिटल गांव की झलक

यह भी पढ़ें: Corona Effect: स्कूलों में कम हो सकती है बच्चों की संख्या, श्रमिकों के पलायन से मार 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!