मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

चंडीगढ़, राम मालवा। हर खिलाड़ी के लिए सबसे अहम होती है उसकी परफॉर्मेस। जिसके लिए हमेशा प्रयास करता है। लेकिन कई बार खिलाड़ी की परफॉर्मेस अच्छी न हो, तो उसे तनाव का सामना करना पड़ सकता है। जिसके कारण खेल तक छूट जाता है। ऐसे में योग उन खिलाड़ियों के लिए नए जीवनदान की तरह काम करता है। यह कहना है गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ योगा एजुकेशन एंड हेल्थ सेक्टर-23 के टीचर रोशन लाल का, जो पिछले कई साल से खिलाडि़यों के लिए स्पेशल सेशन करवा रहे हैं। उनका कहना है कि निश्चित समय पर किए गया योग खिलाड़ी को न सिर्फ बेहतर खेल में सहायता करता है, बल्कि मेंटल लेवल को भी काफी मजबूत बना देता है। खिलाड़ी डेली एक्सरसाइज के साथ नियमित तौर पर करें योग किसी भी गेम का खिलाड़ी हो, अगर वह अपनी डेली एक्सरसाइज के साथ-साथ कुछ समय योगा को दे, तो खिलाड़ी अपने खेल पर ज्यादा नियंत्रण पा सकता है।कई ऐसे गेम्स हैं, जिनमें शारीरिक से ज्यादा मेंटल हेल्थ काफी मायने रखती है। उन खेलों के लिए तो योग और भी जरूरी हो जाता है।

योग से क्लीयर हुआ मेरा फोकस

इंटरनेशनल शूटिंग खिलाड़ी शिरीन गोदारा का कहना है कि मैंने जब शूटिंग में हिस्सा लिया था, तो गेम में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ा। अपने टारगेट पर फोकस बनाए रखना मेरी गेम का सबसे बड़ा नियम है। इस गेम में शारीरिक फिटनेस से ज्यादा दिमागी मजबूती काफी ज्यादा जरूरी है। इसलिए मैंने गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ योगा एजुकेशन एंड हेल्थ सेंटर मे भ्रस्त्रिका प्राणायाम करना शुरू किया। जिससे मुझे एनर्जी भी मिली और साथ में उनका गेम में सही तरह से प्रयोग करना भी आया। इसके अलावा ध्यान व और भी कई तरह के योग ने मेरी गेम में परफॉर्मेस बेहतर बनाई। जिसके बाद से अब तक कई नेशनल और इंटरनेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में गोल्ड जीतने का मौका मिला है।

चंडीगढ़ में खोले गए हैं 50 योग सेंटर

योगा एसोसिएशन चंडीगढ़ के आयोजक सचिव कुलदीप मेहरा का कहना है कि हर खिलाड़ी के लिए योग भी उतना जरूरी है, जितनी उनकी अन्य एक्सरसाइज। आज चंडीगढ़ में 50 योग सेंटर खोले जा चुके हैं। जहां कोई भी व्यक्ति नि:शुल्क योग कर सकता है। खिलाड़ियों के लिए गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ योगा एजुकेशन एंड हेल्थ-23 में 3 बजे स्पेशल सेशन करवाया जा रहा है। जिसमें हर तीन महीने में सिर्फ एक बार 100 रुपये में रजिस्ट्रेशन करवाया जाता है। 

किस खेल के लिए कौन-सा योग जरूरी

योग टीचर रोशन लाल का कहना है कि किसी भी खेल के लिए माइंड कंसनट्रेशन और बॉडी बैलेंस होना सबसे ज्यादा जरूरी है। इसलिए बॉक्सिंग जैसे खेलों के लिए सूर्य नमस्कार सबसे महत्वपूर्ण है, जो शरीर को बेहतरीन ऊर्जा प्रदान कर सकता है। इसके अलावा फुटबॉल जैसे खेल में बॉडी को हर तरह की मूवमेंट की जरूरत पड़ती है, ऐसे गेम के लिए चक्रासन, धनुरासन जैसे योग कर सकते हैं। वैसे तो हर खिलाड़ी के लिए श्वास की अहम भूमिका है, लेकिन एथलीट में खिलाड़ियों के लिए श्वास प्रक्रिया सबसे महत्वपूर्ण है, योगिक श्वास प्रक्रिया से श्वास को मजबूत किया जा सकता है। इसके अलावा प्राणायाम भी एथलीट्स के लिए हमेशा कारगर सिद्ध हुआ है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!