जागरण संवाददाता, मोहाली : स्पेशल टास्क फोर्स मोहाली द्वारा एनडीपीएस एक्ट के तीन अलग-अलग मामलों में एक महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एक आरोपित, जिससे एक क्विंटल 20 किलो भुक्की मिली है, की पहचान रजिंदर सिंह निवासी बिंदरख के रूप में हुई है। उसे बुधवार को अदालत में पेश किया गया, जहा से एक दिन के पुलिस रिमाड पर भेज दिया गया। पुलिस पूछताछ में यह बात सामने आई कि रजिंदर सिंह कई साल से गुरतेज सिंह व प्रेम सिंह निवासी गाव ढकोरा खुर्द कुराली के पास ड्राइवर की नौकरी करता है। गुरतेज सिंह व प्रेम सिंह आपस में ताया-भतीजा हैं, जिनके पास कुल 6 ट्रक हैं। रजिंदर सिंह के अनुसार उसके मालिक ट्रकों पर रखे ड्राइवर को तनख्वाह न देकर प्रति चक्कर 8 किलो भुक्की दे देते थे। आरोपित रजिंदर के अनुसार वह दो किलो भुक्की अपने पास रख बाकी बेच देता था। राजस्थान से लाकर मालिकों को देता था सप्लाई

पूछताछ के दौरान रजिंदर ने बताया कि वह राजस्थान के मंगलवाड़ा गाव से भुक्की की खेप ट्रकों के जरिए मोहाली लाता था। इस बार भी वह राजस्थान से एक क्विंटल 20 किलो भुक्की लेकर आया था। टी-प्वाइंट डड्डूमाजरा रोड बूथगढ़ पर वह गुरतेज सिंह व प्रेम सिंह की फोर्ड फिगो गाड़ी में भुक्की के थैले उतार रहा था। उसी दौरान एसटीएफ की टीम ने रेड कर उसे दबोच कर नशा बरामद कर लिया। गुरतेज सिंह व प्रेम सिंह मौके से फरार हो गए। 10 साल पहले हुई थी पांच साल की सजा

आरोपित रजिंदर ने एसटीएफ को बताया कि वह राजस्थान से हजार रुपये किलो के हिसाब से भुक्की खरीदकर लाता था और उसे यहा पाच हजार प्रति किलो के हिसाब से बेचता था। दो किलो भुक्की वह अपने नशे के लिए रख लेता था। यही उसकी तनख्वाह होती थी। आरोपित रजिंदर सिंह 2008 में 50 किलो भुक्की ले जाते पकड़ा गया था। जिसके खिलाफ बनूड़ थाने में मामला दर्ज किया गया था और उसे अदालत ने पाच साल की सजा सुनाई थी। गुरतेज व प्रेम के अब तक 16 ड्राइवर आ चुके हैं गिरफ्त में

सजा काटकर आने के बाद वह फिर से गुरतेज व प्रेम के पास ड्राइवर की नौकरी करने लग गया था। वहीं, जाच में यह बात सामने आई है गुरतेज व प्रेम के इससे पहले 16 ड्राइवर पकड़े जा चुके हैं, परंतु हर बार ये दोनों बच निकलते हैं। नशे के कारोबार में तीन और काबू

एसटीएफ ने दो अलग-अलग मामलों में सोहाना पुलिस के साथ मिलकर प्रदीप सिंह निवासी गाव नानोमाजरा को 10 ग्राम हेरोइन ले जाते काबू किया है। वहीं, एसटीएफ द्वारा एक दंपती के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है। जो नशा खुद करते हैं और बाहर बेचते भी हैं। आरोपितों की पहचान लखविंदर सिंह व जसप्रीत कौर निवासी शुतराना के रूप में हुई है। आरोपित दंपती से एसटीएफ को 150 ग्राम स्मैक बरामद हुई है। उक्त दंपती के खिलाफ पहले भी थाना घग्गा, जिला पटियाला में मामले दर्ज हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!