चंडीगढ़, जेएनएन। कर्फ्यू के दौरान मनीमाजरा में एक आयुर्वेदिक दवा की दुकान खोलने पर पुलिस ने झोलाछाप डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया। थाना पुलिस ने आरोपित दुकान मालिक झोलाछाप डॉ. रूपचंद विमान को धारा 188 के तहत गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मनीमाजरा थाने में तैनात हेड कांस्टेबल रविंद्र सिंह पुलिस टीम के साथ कफ्र्यू ड्यूटी में पेट्रोलिंग कर रहे थे। जैसे ही पुलिस टीम गोविंदपुरा एरिया के समीप गुरुद्वारे के बैक साइड में पहुंची तो वहां पर शिव दवाखाना वैद्य नाम की दुकान खुली मिली। पुलिस वेरिफिकेशन में आरोपित 56 वर्षीय रूप चंद धीमान के पास दुकान चलाने का लाइसेंस भी नहीं मिला। इस दौरान उसने स्टेट काउंसिल ऑफ आयुर्वेदिक और यूनानी मेडिसिन बिहार से संबंधित कुछ दस्तावेज पुलिस को दिखाएं। पुलिस उसके दिखाएं सर्टिफिकेट सहित अन्य एंगल पर भी जांच कर रही है।

फर्जी मैसेज भेजने पर दो लोगों के खिलाफ केस

कोरोना संक्रमण की वजह से लागू कर्फ्यू के दौरान सोशल मीडिया पर फर्जी मैसेज पोस्ट और शेयर करने वालों के खिलाफ पुलिस ने सख्ती कर दी है। हिदायत के बावजूद लोग सोशल मीडिया पर अफवाह वाले मैसेज शेयर करने से बाज नहीं आ रहे हैं। मंगलवार को दो अलग-अलग वाट्सएप ग्रुप में कोरोना को लेकर फर्जी मैसेज करने पर दोनों ग्रुप एडमिन के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। साइबर सेल दोनों मामलों की जांच में लगी है। अफवाह वाले मैसेज करने के मामले में पहला केस सेक्टर-17 थाना पुलिस ने दर्ज किया। दूसरा केस सेक्टर-34 थाना पुलिस ने दर्ज किया है। बता दें कि इसी तरह के दो मामलों में सारंगपुर थाना पुलिस और सेक्टर-3 थाना पुलिस भी ग्रुप एडमिन के खिलाफ केस दर्ज कर चुकी है। 

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!