जागरण संवाददाता, पंचकूला : राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ हरियाणा ने बुधवार को मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने के लिए सेक्टर-5 से पैदल मार्च निकाला। प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हाउसिग बोर्ड चौक से आगे नहीं जाने दिया। शिक्षक अपनी लंबित मांगों को लेकर सेक्टर-5 शिक्षा सदन पर प्रदर्शन कर रहे थे।

शिक्षा सदन के सामने हरियाणा के 22 जिलों से आए तीन हजार शिक्षक एकत्र हुए और मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने चल दिए। जैसे ही शिक्षक हाउसिग बोर्ड के पास पहुंचे, उन्हें रोक दिया गया। शिक्षकों ने करीब दो घंटे तक प्रदर्शन किया। इस दौरान राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने अपनी लंबित मांगों को लेकर सीएम के ओएसडी से बात की। बातचीत के दौरान उन्होंने अपनी लंबित मांगों के बारे में बताया।

टीचर्स ने ओएसडी से मीटिग के दौरान बताया कि बच्चों के एडमिशन के लिए परिवार पहचान पत्र जरूरी करने के कारण लोग परेशान हैं। विद्यार्थियों के पूरे दस्तावेज पूरे नहीं होते हैं, इस कारण उनका दाखिला नहीं हो पाया है। इसके अलावा हरियाणा शिक्षा बोर्ड की ओर से पहली से आठवीं तक की किताबें दो साल से नहीं मिली हैं। इस कारण विद्यार्थियों को पढ़ाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं इसके अलावा स्कूलों में बनने वाला मिड डे मील पूरी तरह से बंद है। शिक्षकों को अपने स्तर पर इसकी व्यवस्था करने के लिए कहा जा रहा है। इस तरह के हालात में शिक्षक परेशान हैं। इसके अलावा स्कूल की व्यवस्था को ठीक नहीं किया जा सका है। शिक्षकों की कमी लगातार बढ़ती जा रही है। हरियाणा के जिलों में अंग्रेजी और हिदी माध्यम में बांटकर स्कूलों के साथ लगातार भेदभाव किया जा रहा है। स्कूलों को मिलने वाली मूलभूत सुविधाएं भी नहीं मिल रही हैं।

इस पर सीएम के ओएसडी ने उन्हें आश्वासन दिया कि परिवार पहचान पत्र को दाखिले के लिए राहत दी जाएगी। वहीं अन्य लंबित मांगों को जल्द ही पूरा कर दिया जाएगा। इसके बाद टीचर्स ने प्रदर्शन खत्म कर दिया। इसे लेकर जल्द ही बैठक कर समस्या का सामाधान कराया जाएगा।

इस दौरान राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ हरियाणा के राज्य प्रधान सरदार जगजीत सिंह, राज्य महासचिव तरूण सिहाग, राज्य कोषाध्यक्ष सतीश वत्स सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे। प्रदर्शन के कारण बदला रूट, जाम लगने से परेशान हुए लोग

पंचकूला हाउसिग बोर्ड पर चंडीगढ़ और पंचकूला का पुलिस बल तैनात रहा। इस दौरान बैरिकेडिग कर टीचर्स को रोका गया। वहीं रूट बदले जाने के बाद चंडीगढ़ हाउसिग बोर्ड पर जाम के हालात बने। जाम के कारण पंचकूला और चंडीगढ़ आने-जाने वाले लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ा। शाम को जाम खुलने के बाद लोगों को राहत मिली।

Edited By: Jagran