जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : अब मृतक के परिजनों को डेथ सर्टिफिकेट के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। सेक्टर-25 और मनीमाजरा के श्मशान घाट में संस्कार के एक दिन बाद ही मृत्यु प्रमाणपत्र मिल जाएगा। इसके लिए अब लाइनों में लगकर भटकने की जरूरत नहीं है। मेयर देवेश मोदगिल ने मंगलवार सुबह 9 बजे यह सुविधा सेक्टर-25 के श्मशान घाट में शुरू करवा दी है। यहां पर ही नगर निगम की ओर से एक कंप्यूटर लगाया गया है। मेयर देवेश मोदगिल का कहना है कि डेथ सर्टिफिकेट की एक प्रति यहां पर ही मिल जाएगी, जबकि किसी को अन्य प्रतियां चाहिए, तो उन्हें आवेदन करना होगा। मालूम हो कि बर्थ और डेथ सर्टिफिकेट लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की भी सुविधा है। संस्कार के बाद परिजन श्मशान घाट में अस्थियां लेने के लिए आते हैं, ऐसे में उन्हें उस समय भी डेथ सर्टिफिकेट मिल जाएगा। कई लोग ऐसे हैं, जिनके परिजन दूसरे राज्यों और विदेश में रहते हैं, ऐसे में उन्हें डेथ सर्टिफिकेट के लिए बार-बार नहीं आना पड़ेगा। सेक्टर-25 का श्मशान घाट सबसे बड़ा है। जहां पर प्रतिदिन 12 से ज्यादा संस्कार होते हैं। मेयर का कहना है कि इस दुख की घड़ी में परिजनों की परेशानी कम करने के लिए यह सुविधा शुरू की गई है। मेयर चाहते थे लोगों को परेशानी नहीं हो

मेयर चाहते थे कि ऑन द स्पॉट ही डेथ सर्टिफिकेट मिल जाए, लेकिन अधिकारियों ने कहा कि दस्तावेज की जांच के लिए एक दिन चाहिए। ऐसा न करने पर कोई गलत काम भी हो सकता है। इसलिए अब 24 घंटे का समय रखा गया है। यहां पर नगर निगम ने हाल ही में सीएनजी से संस्कार होने की भी मशीन लगाई है, जोकि चल रही है। पर्यावरण की सुरक्षा के लिए यह नई सुविधा शुरू की गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!