चंडीगढ़ [विशाल पाठक]। सेक्टर-17 मुख्य पोस्ट ऑफिस नए साल पर फॉरेन पोस्ट ऑफिस सर्विस शुरू करने जा रहा है। इस सर्विस के तहत अब शहर के बिजनेसमैन और ट्रेडर्स को अपना सामान (पार्सल) विदेश भेजने से पहले कस्टम क्लीयरेंस के लिए दिल्ली नहीं भेजना पड़ेगा। पोस्ट ऑफिस के अधीक्षक जितेंद्र कपूर ने बताया कि फॉरेन पोस्ट ऑफिस सर्विस जनवरी 2020 तक शुरू कर दी जाएगी।

अभी शहर के बिजनेसमैन और ट्रेडर्स को अपना सामान या स्टॉक विदेश भेजने के लिए कस्टम क्लीयरेंस के लिए नई दिल्ली भेजना पड़ता था। नई दिल्ली से कस्टम क्लीयरेंस के बाद ही सामान विदेश भेजा जाता था। लेकिन अब सेक्टर-17 चंडीगढ़ मुख्य पोस्ट आफिस की ओर से फॉरेन पोस्ट आफिस सर्विस शुरू की जाएगी।

हेड ऑफिस में बैठेगी कस्टम क्लीयरेंस की टीम

अधीक्षक जितेंद्र कपूर ने बताया कि सेक्टर-17 हेड ऑफिस में ही कस्टम क्लीयरेंस की टीम बैठेगी। भारत सरकार को यह प्रस्ताव मंजूरी के लिए भेजा गया था। इस पर सरकार ने मंजूरी दे दी है। नए साल से अब बिजनेसमैन और ट्रेडर्स को कस्टम क्लीयरेंस की सुविधा चंडीगढ़ में ही मिलेगी। इससे बिजनेसमैन और ट्रेडर्स को सहूलियत मिलेगी। उन्हें अपने सामान या पार्सल की क्लीयरेंस के लिए स्टॉक दिल्ली नहीं भेजना पड़ेगा।

चंडीगढ़ से इन देशों के लिए भेज सकते हैं सामान व पार्सल

अधीक्षक जितेंद्र कपूर ने बताया मौजूदा चंडीगढ़ से ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, सिंगापुर, दुबई, कंबोडिया, हांगकांग, इंडोनेशिया, जापान, मलेशिया, न्यूजीलैंड, फिलीपींस, साउथ कोरिया, थाइलैंड और वियतनाम व अन्य देश के लिए पार्सल भेजा जाता है। विदेश पार्सल भेजने के लिए अभी तक दिल्ली से कस्टम क्लीयरेंस लेनी पड़ती थी। इसके लिए बिजनेसमैन और ट्रेडर्स को कस्टम क्लीयरेंस के लिए अतिरिक्त शुल्क देना पड़ता था। लेकिन अब कस्टम क्लीयरेंस की सुविधा चंडीगढ़ में ही उपलब्ध होने से बिजनेसमैन, टेडर्स और पब्लिक को इसका फायदा पहुंचेगा।

चंडीगढ़ में हैं 93 डाक घर

अधीक्षक जितेंद्र कपूर ने बताया कि चंडीगढ़ में एक मुख्य पोस्ट ऑफिस, एक हेड ऑफिस और 93 डाक घर हैं। इसके अलावा पंजाब पोस्टल सर्किल (चंडीगढ़) में कुल 171 ब्रांच ऑफिस हैं।

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!