जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। करीब दो महीने बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि शहर में एक भी नया कोरोना मरीज नहीं मिला है। यह शहरवासियों के साथ स्वास्थ्य विभाग के लिए राहत की बात है। बुधवार को 24 घंटे में शहर में एक भी कोरोना संक्रमित मामला दर्ज नहीं किया गया। वहीं, इससे पहले एक हफ्ते में रोजाना औसत तीन संक्रमित मरीज पाए गए हैं। इस समय 37 कोरोना एक्टिव मरीजों का इलाज चल रहा है। बीते 24 घंटे में 1,554 लोगों के कोविड सैंपल लेकर टेस्टिंग की गई। शहर में अब तक कुल 65,285 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है।

वहीं, अक्टूबर के अंत तक शहर के सभी प्राइवेट हॉस्पिटल में ऑक्सीजन प्लांट इंस्टाल किए जाएंगे। तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए एडवाइजर धर्म पाल ने सभी प्राइवेट हॉस्पिटल को अनिवार्य रूप से ऑक्सीजन प्लांट इंस्टाल करने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने आशंका जाहिर की है कि तीसरी लहर में संक्रमित मामले बढ़ सकते हैं। ऐसे में सभी प्राइवेट हॉस्पिटल को अपना मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर अपग्रेड करने के लिए भी निर्देश दिए हैं।

शहर में आज यहां आएगी मोबाइल टेस्टिंग टीम

शहर में वीरवार को सात जगहों पर मोबाइल टेस्टिंग टीम आएगी। इन जगहों पर लोगों का निशुल्क कोरोना टेस्ट किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक एमटी नंबर-1 सेक्टर-26 पुलिस हॉस्पिटल, एमटी नंबर-2 सेक्टर-17 आईएसबीटी, एमटी 45 ईएसआइ रामदरबार, एमटी एमएम कंटेनमेंट एरिया ईस्ट जोन और रेलवे स्टेशन, एमटी 22 सीआरपीएफ हल्लोमाजरा, एमटी 6 सेक्टर-29 ईएसआइ डिस्पेंसरी और एमटी 7 सेक्टर-26 सब्जी मंडी में सुबह 11 से शाम पांच बजे तक लोगों का निशुल्क कोरोना टेस्ट करेगी। टेस्टिंग के दौरान बीते 24 घंटे में अब तक कोई भी पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है।

अब तक 7.63 लाख लोगों का हुआ कोरोना टेस्ट

स्वास्थ्य विभाग अब तक 7,63,768 लोगों के काेविड सैंपल लेकर टेस्टिंग कर चुका है। इनमें से 6,97,093 लोगों की कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 1,390 लोगों के सैंपल टेस्टिंग के दौरान अब तक खारिज किए जा चुके हैं। दो संक्रमित मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किए गए।अब तक 64,428 संक्रमित मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं। 820 लोगों की संक्रमण से अब तक का मौत चुका है।

Edited By: Ankesh Thakur