जेएनएन, चंडीगढ़। Coronavirus punjab curfew: कर्फ्यू के दौरान लोगों तक जरूरी समान पहुंचाने के लिए जोमैटो, स्विगी, वेरका, अमूल, मंडी प्रधानों, केमिस्ट एसोसिएशनों से तालमेल कर सप्लाई कर रही है। अमृतसर और लुधियाना में स्विगी के 650 लोग मदद कर रहे हैं। डीजीपी दिनकर गुप्ता के अनुसार विक्रेताओं को पास जारी किए जा रहे हैं। फोन पर ऑर्डर लेकर दवाइयों की डिलीवरी सुनिश्चित की जा रही है। डीजीपी ने लोगों व मीडिया को थोड़ा धैर्य दिखाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि इतने बड़े स्तर पर प्रबंधों को लागू करने के लिए समय लगता है।

ट्वीट पर मांगी मदद, परिवार को पहुंचाई दवाई

पुलिस सोशल मीडिया की मदद भी ले रही है। ट्वीट किए जाने के बाद जालंधर के एक परिवार को शुगर की दवाइयां उपलब्ध करवाई गईं। खन्ना में वॉट्सएप ग्रुपों की मदद ली जा रही है।

वेरका के 700 विक्रेता बांटेंगे दूध

मिल्क प्लांट वेरका के अधिकारियों ने भरोसा दिया है कि उनके 700 विक्रेता अमृतसर में भी घर-घर जाकर दूध की सप्लाई करेंगे। अमृतसर में फल-सब्जियों के लिए, सब्जी मंडी के 200 विक्रेता मद द कर रहे हैं। 100 और विक्रेता मदद करेंगे। मुक्तसर साहिब में मोहल्लों से ऑर्डर लेकर सप्लाई की गई।

ये चुनौतियां भी

  • जरूरी वस्तुओं और एलपीजी की कमी।
  • नशा मुक्ति कार्ड वाले लोगों का अस्पताल में जाकर दवा की मांग करना।
  • गेहूं बीजने वाले किसानों की कीटनाशकों की मांग।
  • आलू उत्पादकों का दूसरे राज्यों में सुरक्षित चुंगी व सप्लाई की मांग

युवा भेजें जागरूकता के उपाय: डीजीपी

डीजीपी ने यूट्यूब पर भेजे एक संदेश में युवाओं से अपील की है कि वे कोरोना से बचाव के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए सोशल मीडिया पर उपाय भेजें। पुलिस जवानों द्वारा भंगड़े व बोलियों से जागरूक किया था, जिसे सोशल मीडिया पर काफी समर्थन मिला था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!