जेएनएन, चंडीगढ़। Coronavirus Lockdown India: मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) को जरूरी कदम बताया है। उन्होंने कहा कि लाखों लोगों की जिंदगी बचाने के लिए यह जरूरी था। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की है कि लाखों गरीबों व दिहाड़ीदारों के लिए तत्काल राहत पैकेज का एलान किया जाए। अब तक ऐसा न करने पर उन्होंने दुख जाहिर किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस के चक्र को तोड़ना जरूरी है। बिना किसी साधन के रहने वाले लोगों की रोजाना जरूरतों की पूर्ति करना भी इतना ही महत्वपूर्ण है। उन्होंने 15 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का भी स्वागत करते हुए एक और व्यापक पैकेज लाने की अपील की, जिससे इस तीन हफ्तों के दौरान नागरिकों की प्राथमिक जरूरतों को यकीनी बनाया जा सके।

घर में रहकर लड़ें कोरोना से जंग

कैप्टन ने लोगों से अपील की है कि वे अपने घरों में रहकर कोरोना के विरुद्ध जंग लडऩे का प्रण लें। इससे आप अपने परिवारों को, सगे सबंधियों, लाखों डॉक्टरों, नर्सों, पैरा -मेडिकल स्टाफ, पुलिस, मीडिया व अन्य सेवाएं निभाने वालों को सुरक्षित रख सकेंगे। कठिन समय में कठिन फैसले लेने की जरूरत होती है। केंद्र व राज्य सरकारों का सहयोग करें।

व्यापक पैकेज की जरूरत थी, निर्मला सीतारमण ने निराश किया : कैप्टन

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा की गई घोषणाओं पर निराशा जताई है। उन्होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण पैदा हुई स्थितियों में लोगों, व्यापारियों और उद्योगों की चिंताओं को हल करने में वित्त मंत्री ने कोई बड़ा एलान नहीं किया है। मौजूदा समय में पैदा हुए हालात से निपटने के लिए कोई मदद नहीं मिलेगी। इस संकट की घड़ी में गरीबों, जरूरतमंदों की मदद और अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों में विश्वास पैदा करने के लिए एक व्यापक पैकेज जारी करने की जरूरत थी ।

कैप्टन ने कहा कि सबसे बड़ी आवश्यकता है कि केंद्र बिना देर किए आर्थिक पैकेज लेकर आए। वित्त मंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि वह प्रधानमंत्री द्वारा ऐसे कोई पैकेज संबंधी घोषित टास्क फोर्स के विवरण को लाने में नाकाम रही हैं। टास्क फोर्स के गठन के लिए अभी तक राज्यों से कोई सुझाव नहीं लिया गया और न ही इसके विवरण साझा किए गए हैं। उन्होंने आशा जताई कि पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री को जो सुझाव भेजे हैं उन सुझावों का नोटिस लिया जाएगा। सार्वजनिक वितरण प्रणाली कोटे को दोगुना करने और मौजूदा स्थिति को देखते हुए दो महीने का राशन मुफ्त मुहैया करना सबसे बड़ी आवश्यकता थी जिसकी पंजाब सरकार पहले ही मांग कर चुकी है। 

सीएम ने बनाया कोविड राहत कोष, लोगों से योगदान की अपील

मुख्यमंत्री ने मंगलवार को पंजाब मुख्यमंत्री कोविड राहत कोष गठित (Covid Relief Fund) करने का फैसला किया, ताकि लोग इस संकट की घड़ी में दान कर सकें। लोगों से खुले दिल से दान करने की अपील करते हुए मुख्यमंत्री ने केंद्र से इस कोष के लिए छूट देने की मांग की। लोग डिजिटल साधनों से भी योगदान दे सकेंगे।

  • खाता नाम: पंजाब मुख्यमंत्री कोविड राहत कोष
  • खाता नंबर: 50100333026124
  • खाते की किस्म: बचत खाता
  • आइएफएससी कोड- एचडीएफसी0000213
  • स्विफ्ट कोड: एचडीएफसीआइएनबीबी
  • ब्रांच कोड: 0213
  • ब्रांच नाम: चंडीगढ़, सेक्टर-17-सी

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!