जेएनएन, चंडीगढ़। Coronavirus के कारण लगाए गए कर्फ्यू के बीच आम लोगों की जिंदगी थम न जाए, इसके लिए पंजाब सरकार ने नए कदम उठाए हैं। पंजाब सरकार ने वॉलंटियरों व ई-कॉमर्स कंपनियों के डिलीवरी बॉयज की सेवाएं लेने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने वस्तुओं की खरीद प्रक्रिया की निगरानी के लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव (उद्योग और वाणिज्य) विनी महाजन के नेतृत्व में कमेटी का गठन किया है।

नए दिशा-निर्देश

  • किटें, मास्क व अन्य सामान खरीदने के आदेश
  • सरकारी अस्पतालों, प्राथमिक हेल्थ सेंटरों व कम्युनिटी हेल्थ सेंटरों के लिए जरूरी सामन की जल्द खरीद की जाए। इसमें पीपीई किटें, मास्क और दवाएं शामिल हैं।
  • संदिग्ध मामलों के टेस्ट में प्रोटोकोल को बारीकी से अपनाया जाए।
  • विदेश से लौटे लोगों की तलाश कर उन्हें क्वारंटाइन किया जाए।

डिलीवरी करने वालों की हो मेडिकल जांच

  • सामान घर-घर पहुंचाना जारी रखा जाए और यदि संभव हो सके तो ई-कॉमर्स कंपनियों, सर्विस प्रोवाइडरों की सहायता भी ली जाए।
  • जरूरी सेवाएं मुहैया करवाने वालों, हॉकर या डिलिवरी बॉयज की जरूरी मेडिकल जांच की जाए।

केंद्र सरकार के दफ्तर खुलेंगे

केंद्र सरकार के दफ्तर खुलेंगे इसलिए उनके मुलाजिमों को उनके विभागीय शिनाख्ती कार्ड से ड्युूटी पर जाने की अनुमति होगी। विशेष कर्फ्यू पास की जरूरत नहीं होगी।

विशेष पास जारी कर शर्तों पर मिल सकेगी कर्फ्यू से छूट

  • सरकार निर्धारित समय के लिए परमिट या पास जारी किए कर सकती है। जो कर्फ्यू के समय के लिए होंगे।

इनको ऑफिस के आइकार्ड पर होगी छूट

  • कर्फ्यू से छूट प्राप्त संस्थाओं जैसे मीडिया हाउस, पेट्रोलियम कंपनी, डाकघर, बैंक, रेलवे, पेट्रोल पंप, एलपीजी सप्लाई करने वालों विशेष पत्र से परमिट जारी किए जाएंगे, जिनमें संस्थानों के हर कर्मचारी की सूची होगी। ऐसे कर्मचारियों को उनके ऑफिस के आइकार्ड पर ड्यूटी के समय दफ्तर जाने की आज्ञा होगी। निजी काम के लिए जाने की आज्ञा नहीं होगी।
  • आपात हालत में व्यक्तिगत पास दिए जा सकते हैं। ऐसे व्यक्तिगत कार्ड सिर्फ बताए गए काम के लिए वाहन इस्तेमाल करने की आज्ञा देंगे।
  • सरकारी व प्राइवेट अस्पताल, नर्सिंग होम, प्रारंभिक स्वास्थ्य केंद्र, कम्युनिटी स्वास्थ्य केंद्रों के मुलाजिमों को आम छूट होगी। यह कर्मचारी अपने ऑफिस के आइकार्ड से छूट हासिल कर सकेंगे।
  • ये जारी करेंगे पास
  • डीएफएससी: भोजन, राशन और किराने की दुकानों, अनाज की ढुलाई, मंडी लेबर और खरीद से संबंधित काम।
  • डिप्टी डायरेक्टर बागवानी: फल और सब्जियां।
  • डिप्टी डायरेक्टर पशु पालन: दूध विक्रेता और सप्लायर।
  • जीएम डीआइसी: उद्योग, उद्योगपति, औद्योगिक श्रमिक।
  • डीएमओ: किसी भी किस्म के हॉकर। मंडी और खरीद केंद्र, आढ़ती।
  • सीएओ: किसानों और कटाई से संबंधित गतिविधियां।

व्यक्तिगत और अन्य के लिए जनरल पास

  • सहायक कमिशनर (जनरल), एसडीएम, तहसीलदार या डीसी से अधिकृत कोई व्यक्ति। ये डीसी की अनुमति के बाद मिलेंगे। जिला पुलिस को सूचित करना अनिवार्य होगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़नेे के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!