जेएनएन, लालडू। गांव धर्मगढ़ में एक लेबर ठेकेदार ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। मृतक ने मरने से पहले एक वीडियो भी बनाया था जिसमें उसने अपनी मौत का कारण लाखों रुपये का भुगतान न होना बताया है। उसने फैक्ट्री प्रबंधक, सुपरवाइजर व एक ठेकेदार को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है। मृतक की पत्नी के बयान पर पुलिस ने वीडियो के आधार पर तीनों व्यक्तियों के खिलाफ खुदकुशी के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया है।

चार लाख रुपये न मिलने से था परेशान
जानकारी मुताबिक सादिक अली गांव धर्मगढ़ पेशे से लेबर ठेकेदार था और पंजाब फेब्रिकेटर कंपनी, सैदपुरा, नजदीक डेराबस्सी में बीते छह साल से उसका लेबर का ठेका था। सादिक अली की पत्नी रुखसाना ने शिकायत में बताया कि उसका पति फैक्ट्री के लोगों द्वारा उसका पैसा अदा न करने से दो तीन महीने से परेशान था। वायरल वीडियो में भी उसने रमनदीप उर्फ बांसल, सुखविंदर सिंह सुपरवाइजर और एक अन्य ठेकेदार हरविंदर सिंह पर उसका करीब 4 लाख रुपये अदा न करने का आरोप लगाया था। रुखसाना के मुताबिक सादिक ने इस बारे फैक्ट्री मालिक गुरदास बांसल से भी शिकायत की थी लेकिन उन्होंने भी मामले के समाधान करने में खुद को असहाय बताया।

तीन बच्चों का पिता था सादिक
14 अगस्त शाम को रुखसाना को पता चला कि पति सादिक अली ने परेशान होकर जहर खा लिया है। सादिक को डेराबस्सी सिविल अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत करार दिया। बाद में उसके मोबाइल से सुसाइड वाले वीडियो का पता चला। वीडियो में सादिक अली रोते हुए उक्त तीनों लोगों को अपनी मौत का जिम्मेदार बता रहा है। सादिक अली के परिवार में पत्नी दो बेटे व एक बेटी है। पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल आरोपित पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!