शंकर सिंह, चंडीगढ़ : राजनीति बदल गई है। कांग्रेस पार्टी इसे भाप नहीं पाई। वो पुरानी सोच पर ही टिकी रही। जहां गांधी परिवार तक ही पार्टी सीमित रह गई। इसी वजह से कांग्रेस अपने पूरे कार्यकाल में इतनी कमजोर हो गई। मेरा मानना है कि अब वक्त आ गया है जब कांग्रेस पार्टी को गांधी परिवार से आजाद होकर सोचना चाहिए। वरिष्ठ पत्रकार और लेखक सर मार्क टली ने कुछ इन्हीं शब्दों में कांग्रेस पार्टी के कमजोर प्रदर्शन पर अपनी राय रखी। शनिवार को वे सुखना लेक क्लब में आयोजित मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल में हिस्सा लेने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने वर्तमान राजनीति पर बात की। पीएम मोदी को पता था कि वो जीत जाएंगे

मार्क टली ने कहा कि उन्हें यकीन था कि पीएम मोदी 2019 के चुनाव में दोबारा आएंगे। इसकी मुख्य वजह लोगों का विश्वास नहीं बल्कि खुद पीएम मोदी को अपने पर विश्वास रहा। हालांकि कई राजनीतिक बातें हैं जो इस बीच रह जाती हैं। मगर आज की राजनीति बिल्कुल बदल गई है। लोगों में उत्साह और आक्रोश दोनों ही है। पीएम मोदी से तो मैं भी इंटरव्यू नहीं कर पाया

आप वर्र्षो तक देश की राजनीति से जुड़े रहे मगर क्या कभी पीएम मोदी का इंटरव्यू कर पाए? पर टली ने कहा कि मैं तो खुद उनका इंटरव्यू नहीं कर पाया। मैं सोचता हूं कि मैं कर भी नहीं पाउंगा। क्योंकि आजकल सवाल पूछना भी एक बड़ा काम हो गया है। इसके लिए पूरी तैयारी करनी होगी। शायद आजकल की राजनीति वो नहीं रही कि जिसमें पत्रकार को वो माहौल मिल पाए कि वो अपने सवाल पूछ सके। राष्ट्रवाद को सही तरीके से पेश करने की जरूरत

राष्ट्रवाद जैसे मुद्दे राजनीति पर छाए रहते हैं? पर टली बोले कि हां, दरअसल भारत में कई मुद्दे हैं जिसमें राष्ट्रवाद और धर्म जोड़ दिया जाता है। मगर आज का समय विकास का है। जहां चारों और तरक्की की बात हो रही है वहां इन्हीं मुद्दों के साथ विकास कर पाना मुश्किल है। मेरे अनुसार देश के लोग जागरूक हैं, वो इलेक्शन के दौरान पार्टी को चुनते हैं। पिछले कुछ महीनों में जिस तरह से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने निर्णय लिए हैं, उसमें काफी चीजें बदलने वाली है। मगर मुझे लगता है कि देश के नागरिकों को राष्ट्रवाद में प्रेम और भाईचारे को प्रमुख रखना होगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!