-पांच सीटों के लिए 8 घंटे तक आशा कुमारी व जाखड़ ने ली फीडबैक

-नौ सीटों पर उम्मीदवारों के लिए कांग्रेस को करना होगा होमवर्क

-चार सीटों पर 2014 में लड़ने वाले प्रत्याशी बन गए हैं विधायक

---

कैलाश नाथ, चंडीगढ़: कांग्रेस ने कुछ लोकसभा सीटों पर उम्मीदवार के लिए नए चेहरों की तलाश शुरू कर दी है। रविवार को पांच लोकसभा क्षेत्रों खडूर साहिब, होशियारपुर, फतेहगढ़ साहिब, संगरूर और फरीदकोट में प्रत्याशी की तलाश के लिए पार्टी की प्रदेश प्रभारी आशा कुमार और प्रदेश प्रधान सुनील जाखड़ ने 8 घंटे तक माथापच्ची की। कांग्रेस उन सभी 9 सीटों पर प्रत्याशी की तलाश में जुट गई है, जहां उनकी हार हुई थी। इसमें से पटियाला लोकसभा सीट को छोड़ दिया जाए, तो कांग्रेस मुख्य रूप से 8 सीटों पर नए प्रत्याशी की तलाश कर रही है।

जानकारी के अनुसार पहले चरण में कांग्रेस ने खडूर साहिब, होशियारपुर, फतेहगढ़ साहिब, संगरूर और फरीदकोट में अपने प्रत्याशियों को लेकर संबंधित क्षेत्र के विधायकों, जिला प्रधानों आदि के साथ बैठक की। संबंधित क्षेत्र के नेताओं के साथ आशा कुमारी, सुनील जाखड़ और मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार कैप्टन संदीप संधू ने वन-टू-वन बैठक की। यह सभी वह सीटें हैं, जहां कांग्रेस की हार हुई थी। कुछ सीटों पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी विधायक व मंत्री बन चुके है। फतेहगढ़ साहिब से साधू सिंह धर्मसोत और संगरूर से विजय इंदर सिंगला लोकसभा चुनाव लड़े थे। यह दोनों ही इस समय पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। इसी प्रकार खडूर साहिब से हरमिंदर सिंह गिल चुनाव लड़े थे, जो वर्तमान में पंट्टी से विधायक है। होशियारपुर से पूर्व कैबिनेट मंत्री व पूर्व सांसद मोहिंदर सिंह केपी चुनाव लड़े थे और हार गए थे। बाद में वह आदमपुर से विधानसभा चुनाव भी लड़े, लेकिन इस चुनाव में भी उन्हें हार मिली थी। इसे देखते हुए इस बात की पूरी-पूरी संभावना है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस उन पर अब दांव नहीं खेलेगी।

इसी प्रकार फिरोजपुर से सुनील जाखड़ चुनाव लड़े थे, जो वर्तमान में गुरदासपुर से सांसद है। वहीं, श्री आनंदपुर साहिब से अंबिका सोनी चुनाव लड़ी थीं। दनके इस बार चुनाव मैदान में उतरने की संभावना नहीं है। इसी प्रकार बठिंडा से मनप्रीत बादल लोकसभा चुनाव लड़े थे, वे वर्तमान में पंजाब कैबिनेट में वित्तमंत्री हैं। फरीदकोट से कांग्रेस ने पूर्व विधायक जोगिंदर सिंह पंजगराई को चुनाव मैदान में उतारा गया था। वे हार गए थे। यह वह लोकसभा क्षेत्र है, जिन पर कांग्रेस को नए चेहरे की तलाश है। पटियाला लोकसभा सीट से पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री परनीत कौर का चुनाव लड़ना तय है। जानकारी के अनुसार पहले चरण में कांग्रेस ने पांच हलकों के नेताओं के साथ बैठक की, जबकि अगले चरण में चार अन्य हलकों के नेताओं के साथ बैठक होगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!