जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड में बतौर स्टेनो की पोस्ट पर कार्यरत एक महिला कर्मचारी ने विभाग के ही करीब 20 कर्मचारियों पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। महिला ने इस संदर्भ में हाउसिंग बोर्ड के चीफ एग्जीक्यूटिव आफिसर को लिखित में शिकायत दी है। इस शिकायत पर बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों ने जांच कमेटी बैठाकर सभी आरोपितों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला हाउसिंग बोर्ड में करीब 20 साल से नौकरी कर रही है जोकि इस समय एक्साइन-1 में बतौर स्टेनो के पोस्ट पर है। जिसने विभाग के कर्मचारियों पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। महिला ने लिखित में जो शिकायत दी है, उसके मुताबिक विभाग के कुछ कर्मचारी आए दिन उससे छेड़छाड़, अभद्र भाषा का प्रयोग और यौन उत्पीड़न कर रहे थे। जिस पर महिला ने तंग आकर अपने वरिष्ठ अधिकारियों को इस बारे में इंतलाह किया। बता दें कि महिला ने सोमवार को सीईओ के नाम लिखित शिकायत दी थी जोकि प्रशासनिक कार्य के चलते ाोपाल गए हुए हैं। इस लिहाज से यह शिकायत अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बोर्ड की सेक्सयूअल ह्रासमेंट कमेटी को जांच के लिए मार्क कर दी। सेक्सयूअल ह्रासमेंट कमेटी कर रही जांच

हाउसिंग बोर्ड की अकाउंट्स आफिसर गगनदीप कौर की अध्यक्षता में सेक्सयूअल ह्रासमेंट कमेटी इस शिकायत पर कार्रवाई कर रही है। कमेटी ने सभी आरोपितों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। शिकायत के अनुसार जिन लोगों पर आरोप लगाए गए हैं, उनमें 16 के करीब पुरुष कर्मचारी हैं, जबकि दो महिला कर्मचारी और बाकी रिटायर्ड कर्मचारी ाी हैं। शिकायतकर्ता महिला ने हाउसिंग बोर्ड के एक एसडीओ, एई और बाकी क्लर्क स्टाफ में मौजूद कर्मचारी पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। बोर्ड के सेक्रेटरी के पास भी गई थी शिकायत

महिला ने एक बार मौखिक रूप से बोर्ड के सेक्रेटरी को भी अन्य कर्मचारियों द्वारा परेशान किए जाने को लेकर शिकायत दी थी। जिस पर सेक्रेटरी ने कार्रवाई करते हुए आरोपितों को बुलाकार इस बारे में पूछताछ कर अपनी कार्रवाई की थी। यहां तक की सेक्रेटरी ने उस समय चेतावनी जारी कर विभाग के कर्मचारियों को अपने कायदे व कानून में रहकर काम करने की हिदायत दी थी। अब महिला ने बोर्ड की ही अन्य कर्मचारियों के िालाफ लिखित में यौन उत्पीड़न की शिकायत दी है।

Posted By: Jagran