चंडीगढ़, जेएनएन। डंपिंग ग्राउंड ज्वाइंट एक्शन कमेटी की ओर से डड्डूमाजरा कॉलोनी के अलग-अलग संगठनों के प्रतिनिधिमंडल की शुक्रवार को मीटिंग हुई। बैठक का मुख्य उद्देश्य यह था कि डंपिंग ग्राउंड के कचरे की माइनिंग को लेकर प्रशासन क्यों देरी कर रहा है। इस पर ज्वाइंट एक्शन कमेटी ने विरोध भी जताया। कमेटी के सदस्यों ने बताया कि नगर निगम कमिश्नर ने सितंबर में कहा था कि इस प्लांट का उद्घाटन दो अक्टूबर को हो जाएगा। मगर ऐसा नहीं हुआ। जबकि मेयर राजेश कालिया ने 17 तारीख को उद्घाटन के लिए कहा था, लेकिन वह भी नहीं हुआ।

कमेटी के अध्यक्ष दयाल कृष्ण का कहना है कि जेपी प्लांट में कचरे के अंबार लगे हैं। वहां कचरा गिराने की जगह तक नहीं है। अब सारा कचरा डं¨पग ग्राउंड पर ही आ रहा है। डड्डूमाजरा के हालात बिगड़ते जा रहे हैं। दूषित हवा में सांस लेना बहुत मुश्किल हो चुका है। दिवाली को काले दिवस के तौर पर मनाएंगे डड्डूमाजरा के लोग कमेटी के सदस्यों ने प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि जल्द से जल्द इस माइनिंग के प्रोजेक्ट को शुरू किया जाए। ताकि लोगों को राहत मिल सके। इस दौरान कमेटी व अन्य संगठनों के प्रतिनिधियों ने यह फैसला किया कि अगर दिवाली से पहले माइनिंग का कार्य शुरू नहीं होता तो इस बार की दिवाली डड्डूमाजरा के लोग काले दिवस के रूप में मनाने को मजबूर हो जाएंगे।

इस मीटिंग में हुसन सिंह आदिवासी, वाल्मीकि मंदिर कमेटी के प्रधान रघुवीर सिंह, लेबर यूनियन के अध्यक्ष आनंद कुमार, सतीश, ललित कुमार, डंपिंग ग्राउंड ज्वाइंट एक्शन कमेटी के मेंबर विक्रमजीत, विनोद कुमार, दयाल कृष्ण व अन्य उपस्थित थे।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!