चंडीगढ़, जेएनएन। इस दिवाली पर शहर की मार्केट्स में चीनी जगमगाती लाइटों की चमक फीकी नजर आ रही है। लोग चाइनीज आइटम की खरीदारी में रूचि नहीं दिखा रहे हैं। प्रशासन ने इस बार दो दिनों की बिक्री अवधि बढ़ाकर नौ दिन कर दी। साल 2018 में दिवाली पर दुकानदारों को इस तरह के सभी सामान बेचने के लिए सात दिन का समय निर्धारित किया गया था। सेक्टर-18 के इलेक्ट्रॉनिक मार्केट के दुकानदारों का कहना है कि 19 से 29 अक्टूबर की मिली अवधि में धनतेरस और दिवाली से दिनों से काफी उम्मीद हैं। उन्होंने इसकी मुख्य वजह लोगों के स्वदेशी सामान का क्रेज और चाइनीज आइटम के हर बार महंगे होने को बताया है।

50 से 800 रुपये की बिक्री ज्यादा

सेक्टर-18 मार्केट के दुकानदार राजेश मदान ने बताया कि चाइनीज लाइटें 50 रुपये की कीमत से शुरू हो जाती हैं। लोगों में सबसे ज्यादा डिमांड 600 से 800 डेकोरेशन वाले आइट्स की होती हैं। मकान, कोठी को ऊपरी तौर पर पूरी तरह से सजाने के लिए अधिक मात्रा में लाइटें लगती हैं। कई ग्राहक एक बार खरीद पर कुछ सालों तक इस्तेमाल करने के नजरिए से महंगा और कुछ एक साल इस्तेमाल के नाम पर सस्ता सामान भी खरीदकर ले जाते हैं।

नई लाइटें भी नहीं खींच पा रही ग्राहक

सेक्टर-18 के दुकानदार ने बताया कि इस बार कई नई लाइटें आई हैं। इसमें कई तरह के अलग-अलग हार्ट सीरिज लाइटें, स्टार्स, टेंपल सहित दूसरे सामान शामिल हैं। कम कीमत में ज्यादा आकर्षित होने के बावजूद लोगों में खींचने में कुछ खास कामयाब नहीं हो पाई हैं। मार्केट में इसी तरह हाल रहा तो दिवाली के बाद बिक्री में 35 से 40 प्रतिशत गिरावट होगी। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!