विकास शर्मा, चंडीगढ़। कोरोना महामारी के दूसरी लहर के दौरान मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रशासन ने शहर के तीन स्पोर्ट्स कांप्लेक्सों को मिनी कोविड केयर सेंटर में तब्दील कर दिया था। मई महीने में इन स्पोर्ट्स कांप्लेक्सों को मिनी कोविड केयर सेंटरों में तब्दील किया गया था। महीने बीत गए, अब हालात भी पूरी तरह से सामान्य हैं, बावजूद इसके इन सेंटरों को दोबारा खिलाड़ियों के लिए नहीं खोला गया है। इन स्पोर्ट्स कांप्लेक्स ताले लटके हुए हैं। जिस वजह से खिलाड़ी मौजूदा स्पोर्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर का फायदा नहीं उठा पा रहे हैं।

स्पोर्ट्स कांप्लेक्स- 8 में मिनी कोविड केयर सेंटर बनाने वाले श्री सत्य साईं ग्रामीण जागृति के ट्रस्टी अमर विवेक अग्रवाल ने बताया कि अभी प्रशासन ने सभी व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए 31 अक्टूबर तक का समय दिया है। ऐसे में हम लोगों की सुविधा को देखते हुए इसे 31 अक्टूबर तक ऐसे ही रखेंगे, अगर जरूरत नहीं पड़ी तो इस सारे इंफ्रास्ट्रक्चर को किसी अन्य सामाज से जुड़े कार्य में लगाया जाएगा।

हमें इस इंफ्रास्ट्रक्चर को हटाने में कोई आपत्ति नहीं

स्पोर्ट्स कांप्लेक्स -43 में मिनी कोविड केयर सेंटर बनाने वाली संस्था यूनाइटिड फॉर सिख आर्गेनाइजेशन के रिप्रेजेंटेटिव अमरदीप सिंह रीन ने बताया कि हमेें इस इंफ्रास्ट्रक्चर को हटाने में कोई आपत्ति नहीं है। लाखों रुपये खर्च इन स्पोर्ट्स कांप्लेक्सों को मिनी कोविड सेंटर में तब्दील किया था, ऐसे में इन्हें हटाने में जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।

जल्द दोबारा शुरू होंगे स्पोर्ट्स कांप्लेक्स

जिला खेल अधिकारी कृष्ण लाल ने बताया कि  इन स्पोर्ट्स कांप्लेक्सों को खाली करने के लिए कहा था, लेकिन अभी प्रशासन की तरफ से इन समाजसेवी संस्थाओं को 31 अक्टूबर तक समय दिया गया है। बावजूद इसके हमनें स्पोर्ट्स कांप्लेक्स - 43 जिमनास्टिक और स्कवैश शुरू कर दिया है, जबकि बैडमिंटन की कोचिंग अभी शुरू नहीं हुई है, क्योंकि बैडमिंटन हॉल में अभी बेड लगे हुए हैं। वहीं सेक्टर – 34 में जूडो और स्कवैश की कोचिंग जारी है, जबकि अन्य खेलों की कोचिंग बंद है। स्पोर्ट्स कांप्लेक्स - 8 में खेल गतिविधियां पूरी तरह से बंद हैं।

Edited By: Ankesh Thakur