जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। Chandigarh Women Murder Case: चंडीगढ़ के मौलीजागरां में दो दिन पहले महिला की हत्या की गई थी। हालांकि अभी तक पुलिस आरोपित को पकड़ नहीं पाई है। मृतका की पहचान मौली गांव के रहने वाली 33 वर्षीय रोजीना के तौर हुई थी। महिला के शरीर पर चोट के निशान भी मिले थे, जिससे अंदेशा लगया जा रहा था कि महिला की हत्या चाकू से की गई है और शव को जंगल में फेंका दिया था। वहीं, जहां शव मिला था उससे कुछ दूरी पर एक चाकू भी पुलिस ने बरामद किया था। 

मृतका रोजीना का पंचकूला के सेक्टर-6 अस्पताल में डॉक्टरों के स्पेशल बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट में महिला के गर्भवति होने का खुलासा हुआ है। हालांकि पोस्टमार्टम की फाइल रिपोर्ट आने में थोड़ा समय लगेगा, जिसमें यह साफ हो जाएगा कि महिला कितने महीने और कितने दिन की गर्भवती थी। महिला के विसरा जांच के लिए भेजे जाएंगे, जिसके बाद फाइनल रिपोर्ट आएगी।

रेलवे एरिया में चाकू मारकर महिला की हत्या के दूसरे दिन जीआरपी ने पंचकूला सेक्टर-6 में महिला के शव को पोस्टमार्टम करवाया था। हालांकि, अभी तक जीआरपी इस मामले में आरोपित तक नहीं पहुंच पाई है।

वहीं, इस मामले में जीरआपी इंचार्ज के सुपरविजन में अब तक 15 से ज्यादा लोगों से पूछताछ हो चुकी है। जीआरपी ने मृतका के पति छोटे खान सहित दूसरे सदस्यों के बयान भी दर्ज किया है। जीआरपी का दावा है कि जल्द ही आरोपित को दबोच लिया जाएगा। पुलिस की जांच में वारदात स्थल से थोड़ी दूरी पर एक चाकू भी बरामद हुआ था।

एक सप्ताह में दूसरी महिला की हत्या

चंडीगढ़ में पांच दिनों में दूसरी महिला की हत्या हुई है। इससे पहले मलोया एरिया स्थित जंगल में एक महिला की नग्न अवस्था में लाश बरामद हुई थी। महिला के मुंह में मोजे ठूंसे गए थे, जिस वजह से दम घुटने से उसकी मौत हो गई थी। वहीं, पुलिस की प्राथमिक जांच में महिला से दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई गई थी। थोड़ी दूरी पर महिला के कपड़े भी बरामद हो गए थे। अभी तक दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हो पाई है। जबकि आरोपित भी पकड़ से दूर है।

Edited By: Ankesh Thakur