जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : दिल्ली के कर्तव्य पथ पर 26 जनवरी पर होने वाली परेड की तैयारियां प्रशास ने अभी से शुरू कर दी हैं। रक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों और यूटी से परेड में शामिल होने वाली झांकियों के लिए प्रस्ताव मांगे हैं। पिछले पांच वर्ष से परेड में चंडीगढ़ की झांकी को जगह नहीं मिली है।

इस बार यूटी प्रशासन झांकी के लिए नए आइडिया पर काम कर रहा है। झांकी में लाइफलाइन सुखना लेक, राक गार्डन के साथ बर्ड पार्क की झलक देखने को मिलेगी। इसके अलावा चंडीगढ़ रिन्यूअल एनर्जी के क्षेत्र में किए गए बेहतरीन कार्यो से बनती माडल सिटी को शामिल किया जाएगा। इसमें पानी पर तैरते सोलर प्रोजेक्ट और इलेक्ट्रिक व्हीकल होंगे। हालांकि झांकी के डिजाइन को रक्षा मंत्रालय ही फाइनल कर मंजूरी देता है कि वह परेड में शामिल होगी या नहीं।

पिछली बार चंडीगढ़ प्रशासन ने शहर में साइकिलिंग को बढ़ावा देने के लिए बनाए गए साइकिल ट्रैक और शहर की ग्रीनरी और हेल्थ हब को दर्शाने के लिए एक टैब्ल्यू तैयार किया था, लेकिन इसका चयन नहीं हो सका था। आखिरी बार 2014 में हुआ था चंडीगढ़ की झांकी का चयन आखिरी बार 2014 में चंडीगढ़ प्रशासन की ओर से भेजी गई झांकी के डिजाइन का चयन हुआ था। उस समय प्रशासन की ओर से स्वर्गीय नेक चंद द्वारा बनाए गए राक गार्डन को झांकी के लिए भेजा था और करीब 13 साल बाद वर्ष 2014 में इसका चयन किया गया था।