चंडीगढ़, जेएनएन। अब सड़क किनारे गाड़ी पार्क करना, गाड़ी साइड में लगाकर मोबाइल पर बात करना, गाड़ी में किसी का इंतजार करना या रेड लाइट होने पर स्लीप रोड जाम करना काफी महंगा पड़ जाएगा। एक फरवरी से ट्रैफिक पुलिस ऐसे वाहन चालकों का चालान करेगी। ट्रैफिक पुलिस ने नियम के तहत कार्रवाई के लिए मध्य मार्ग, दक्षिण मार्ग और उद्योग पथ चुना हैं। जिसके बाद ऐसे वाहन चालकों पर चालान की कार्रवाई शहर के सभी मार्ग पर किया जाएगा। पब्लिक की सुविधा में ट्रैफिक पुलिस ने मोटर व्हीकल एक्ट-2017 के ऑर्टिकल-22 के तहत नियम लागू करने का फैसला लिया है। इसके लिए सोमवार से ट्रैफिक पुलिस विभाग की ओर से शहरभर में वाहन चालकों को जागरूक करने का अभियान शुरू कर दिया गया है।

इस वजह से जरूरी है कार्रवाई

ट्रैफिक पुलिस को पब्लिक के द्वारा कई बार ट्रैफिक सिग्नल पर ग्रीन लाइट के इंतजार में खड़े वाहन चालकों द्वारा स्लीप रोड जाम करने की शिकायत मिलती है। विभाग ने पब्लिक की शिकायतों पर संज्ञान लेकर छोटे बेरिकेड्स लगाकर स्लीप रोड (फ्री-लेफ्ट) खाली रखने के निर्देश वाले बोर्ड भी लगवाएं। इसके बावजूद लोगों बेरिकेड्स के पीछे से स्लीप रोड जाम करने लगे। इसी तरह सड़क किनारे गाड़ी पार्क कर 5-10 मिनट में आने का बहाना, मोबाइल पर कॉल आने का बहाना और किसी के आने का इंतजार करने की बात कह लोग ट्रैफिफ को प्रभावित करते हैं।

गाड़ी लेकर निकलें तो इन सबका भी रखें ध्यान

  • गाड़ी में खुद या किसी दूसरी सवारी की मौजूदगी के बावजूद सड़क किनारे पार्क न करें।
  • ड्राइ¨वग के समय कॉल आने पर इंटर्नल रोड में जाकर गाड़ी उचित स्थान पर रोक बात करें।
  • अगर गाड़ी में किसी के आने का इंतजार करना है तो गाड़ी पार्किग या उचित स्टॉप पर रोकें।
  • ट्रैफिक सिग्नल पर गाड़ी रोकने से पहले ध्यान रहे कि साइड वाली स्लीप रोड ब्लॉक न हो।
  • सड़क पर गाड़ी में टेक्निकल प्रॉब्लम होने पर इंडिकेटर और रिफ्लेक्टर का जरूर इस्तेमाल करें।

सड़क किनारे गाड़ी खड़ी कर किसी का इंतजार करना, मोबाइल पर गाड़ी में बैठकर बात करना, स्लीप रोड ब्लॉक करना या किसी तरह सड़क किनारे पार्किग करने पर चालान किया जाएगा। पब्लिक की सुविधा के लिए एक फरवरी के अभी तीन मध्य मार्ग, दक्षिण मार्ग और उद्योग पथ चालान किया जाएगा। अभी पब्लिक को नियम के बारे में जागरूक करने का अभियान शुरू किया गया है। पब्लिक से गुजारिश है कि यातायात की समस्या को खत्म करने के लिए पुलिस की मदद करें।

-शशांक आनंद, एसएसपी ट्रैफिक एंड सिक्योरिटी

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!