चंडीगढ़, [सुमेश ठाकुर]। शहर के स्टूडेंट्स पोक्सो एक्ट के बारे में ज्यादा जानना चाहते है। यह सामने अाया है चंडीगढ़ कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट (सीसीपीसीआर) द्वारा कराए जा रहे ऑनलाइन टेस्ट में। कमीशन की तरफ से छठी से बारहवीं कक्षा में पढ़ाई कर रहे 60 हजार स्टूडेंट्स को ऑनलाइन टेस्ट से जोड़ने का प्रयास किया था। जिसका विषय, कोरोना, पोक्सो, मेंटल हेल्थ, ड्रग अव्यूज और क्रिएटिवी था।

कमीशन द्वारा टेस्ट की शुरूआत 27 अगस्त को की थी, जिसमें सबसे पहले 16763 स्टूडेंट्स ने भाग लिया। जिसमें स्टूडेंट्स ने बताया कि किस प्रकार से कोरोना से बचाव हो सकता है। उसके बाद 29 अगस्त को पोक्सो टेस्ट में 26349, मेंटल हेल्थ में 22882 और ड्रग अव्यूज में 21,710 स्टूडेंट्स ने भाग लिया। यह टेस्ट कलस्टर हेड के सहयोग से कराए जा रहे हैं। कलस्टर हेड स्कूल को लिंक शेयर कर रहे है और उसके बाद स्टूडेंट्स उस लिंक से जुड़कर टेस्ट में भाग ले रहे है और अलग-अलग विषयों पर पूछे गए सवालों के जबाव दे रहे है।

 

पोक्सो टेस्ट में जुटे 26 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स

कमीशन द्वारा कराए गए टेस्ट में सरकारी स्कूलों में पढ़ाई कर रहे छठी से बारहवीं कक्षा के 60 हजार स्टूडेंट्स को इनवाइट किया गया था। स्टूडेंट्स अपनी सुविधा आैर इच्छा के अनुसार उस लिंक पर जुड़ते है और टेस्ट में पूछे गए सवालों के जबाव देते है। पोक्सो के टेस्ट में सबसे ज्यादा 30 हजार के करीब स्टूडेंट्स ने भाग लिया, जिसमें से मात्र 26349 स्टूडेंट्स ही टेस्ट में पूरे समय तक बैठ पाए। अन्य स्टूडेंट्स का या तो इंटरनेट कनेक्शन कट गया या फिर किसी अन्य कारण से स्टूडेंट्स टेस्ट से डिस्कनेक्ट हो गए।

 

कमीशन की चेयरपर्सन हरजिंदर करैर ने कहा कि कमीशन का प्रयास स्टूडेंट्स को कोरोना काल में भी बेहतर जानकारी मुहैया कराना है। इसके लिए कमीशन की तरफ से एक छोटा सा प्रयास किया है। जिसमें शहर के बच्चे जुड़ रहे है और उसमें स्टूडेंट्स बेहतर रिस्पांस भी दे रहे है। एक टेस्ट 8 सितंबर को होना है। उसमें यदि कोई स्टूडेंट्स जुड़ना चाहता है तो वह कलस्टर हेड के अलावा स्कूल प्रिंसिपल से कॉटेक्ट कर सकता है। स्लेबस सोमवार को स्टूडेंट्स तक पहुंच जाएगा।

 

Edited By: Vikas_Kumar

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!