राजेश ढल्ल, चंडीगढ़। चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के लिए वार्ड ड्रा का इंतजार खत्म हो गया है। दशहरा के बाद राजनीतिक तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी। यह क्लीयर हो जाएगा कि कौन सा वार्ड महिला और कौन सा वार्ड आरक्षित वर्ग के लिए रिजर्व होगा। प्रशासन ने वार्ड ड्रा की तारीख घोषित करने के साथ ही राजनीतिक सरगरमियां शुरू हो गई हैं। प्रशासन 19 अक्टूबर को वार्ड ड्रा निकालेगा। ड्रा के बाद यह स्पष्ट हो जाएगा कि किस पार्टी का उम्मीदवार कौन से वार्ड से चुनाव लड़ेगा।

चुनाव आयोग तय कर लिया है कि ड्रा के बाद नवंबर के अंतिम दिनों में नामांकन प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। ऐसे में मतदान 12 से 15 दिसंबर के बीच होगा। 19 अक्टूबर को को यूटी गेस्ट हाउस में वार्ड ड्रा निकाला जएगा। इस बार आयोग ने मतदान केंद्रों की संख्या 445 से बढ़ाकर 700 कर दी है। इस बार वार्ड की संख्या भी 26 से बढ़कर 35 हो गई है। क्योंकि सभी गांव नगर निगम में शामिल हो गए हैं। ड्रा की तारीख तय होने के बाद कांग्रेस वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल ने आज सेक्टर-35 स्थित कांग्रेस भवन में कुछ अहम नेताओं की बैठक बुलाई है। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चावला भी भाग लेंगे। कौन सा वार्ड क्या हो सकता है इसकी रणनीति तैयार की जाएगी।

यूटी गेस्ट हाउस में होने वाले ड्रा में सभी राजनीतिक दलों के नेता भी उपस्थित होंंगे। 

ड्रा होने के बाद कई नेताओं के भी सपने टूटेंगे क्योंकि कई दावेदार ऐसे हैं, जिनके वार्ड रिजर्व कैटेगरी और महिला उम्मीदवार के लिए रिजर्व हो सकते हैं। ऐसे में कई नेताओं को दूसरे वार्ड में जाकर अपनी राजनीतिक जमीन तैयार करनी होगी। जबकि कुछ दावेदारों को चुनाव लड़ने का विचार भी त्यागना होगा। रिजर्व वार्ड से कोई जनरल कैटेगरी का उम्मीदवार चुनाव नहीं लड़ सकता है। मुख्य तौर पर कांग्रेस, भाजपा और आम आदमी के उम्मीदवारों के बीच मुकाबला होगा।

12 महिलाओं के लिए वार्ड होंगे रिजर्व

इसके साथ ही यह भी तय कर लिया गया है कि नौ जनरल कैटेगरी महिला और सात रिजर्व कैटेगरी के लिए वार्ड रिजर्व होंगे। जो सात आरक्षित वर्ग के लिए वार्ड तय होंगे उनमें भी तीन एसी वर्ग की महिलाओं को प्रतिनिधित्व दिया जाएगा। ऐसे में एससी और जनरल कैटेगरी की 12 महिलाओं को चुनाव लड़ने का मौका मिलेगा।

यह वार्ड हो सकते हैं आरक्षित

जो वार्ड आरक्षित वर्ग के लिए रिजर्व होने हैं वह उस वार्ड की एससी जनसंख्या के आधार पर होंगे।जिस वार्ड में सबसे ज्यादा एसी वर्ग की जनसंख्या होगी उस वार्ड को पहले रिजर्व किया जाएगा। उसके बाद एसी वर्ग के जनसंख्या के आधार पर दूसरे वार्ड को रिजर्व किया जाएगा। ऐसे में सेक्टर-25, रामदरबार, मलोया, डड्डूमाजरा, पलसौरा, सेक्टर-52, और मौलीजागरां का विकास नगर रिजर्व कैटेगरी के उम्मीदवार के लिए आरक्षित हो सकता है।

Edited By: Ankesh Thakur