जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। कांग्रेस नगर निगम चुनाव के लिए बाकी बचे 5 उम्मीदवारों की घोषणा शुक्रवार को भी नहीं कर पाई। पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल के साथ अध्यक्ष सुभाष चावला की देर शाम तक बैठक होती रही।इसके साथ ही डड्डूमाजरा सीट पर भी बवाल मचा हुआ है। पार्टी पर इस सीट का उम्मीदवार बदलने का भी दबाव है। कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चावला का कहना है कि बाकी बचे पांच उम्मीदवारों की घोषणा शनिवार सुबह  की जाएगी। मालूम हो कि शनिवार दोपहर 3 बजे तक नामांकन भरने की अंतिम तारीख है। कांग्रेस पार्षद शीला फूल सिंह की सेक्टर-25 सीट को लेकर भी पार्टी तय नहीं कर पा रहे हैं। इस सीट पर भी उम्मीदवार की घोषणा शनिवार सुबह की जाएगी।

शीला फूल सिंह पार्टी की सीनियर नेता के अलावा 15 साल से पार्षद हैं। सेक्टर-25 की सीट पर ब्लाक अध्यक्ष अनिल कुमार की बेटी के अलावा महिला कांग्रेस की महासचिव ज्योति को भी दावेदार बताया जा रहा है। सेक्टर-37, 38 की सीट पर भी कांग्रेस शनिवार को ही घोषणा करेगी। इस सीट पर भाजपा अध्यक्ष अरुण सूद ने खुद चुनाव न लड़कर युवा मोर्चा के अध्यक्ष विजय राणा को उम्मीदवार बनाया है। अब इस सीट पर किसी राणा को ही उम्मीदवार बनाने की रणनीति बना रही है। नामांकन के बाद चुनाव प्रचार तेज हो जाएगा। कांग्रेस पार्षद दल के नेता देवेंद्र सिंह बबला, सतीश कैंथ सहित कई दिग्गज नेता आज ही नामांकन दाखिल करेंगे।

भाजपा के कुलमीत सोढी अकाली दल में शामिल

दल-बदल की राजनीति भी शुरू हो गई है। भाजपा नेता कुलमीत सिंह सोढी शिरोमणि अकाली दल में शामिल हो गए हैं। अकाली उम्मीदवार दल के अध्यक्ष हरदीप सिंह बुटेरला ने बताया कि सोढी के शामिल होने से नगर निगम के वार्ड नंबर 27 से अकाली-बसपा के सांझे उम्मीदवार जबरजंग सिंह की चुनाव प्रचार मुहिम में तेजी आएगी और उनकी जीत यकीनी होगी। कुलमीत सिंह सोढी इससे पहले भारतीय जनता पार्टी में वर्ष 2003 से 2006 तक मंडल नं. 9 के सचिव, 2006 से 2009 तक मंडल नं. 9 के महासचिव, वर्ष 2009 से 2012 तक मंडल अध्यक्ष रहे हैं। इस मौके चरनजीत सिंह विल्ली, दलजीत सिंह सोढी, गुरप्रीत सिंह, ओम प्रकाश काका, सुरिंदर सिंह भी उपस्थित थे।वहीं शहर में कई जगह उम्मीदवार को लेकर बवाल मचा हुआ है। हर दल में नाराजगी देखी जा रही है।

Edited By: Pankaj Dwivedi