जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। शहर में करवा चौथ के दिन एक विवाहिता संदिग्ध परिस्थितियों में कमरे के अंदर फंदे से लटकी मिली। देर शाम जब पति ड्यूटी से लौटा तो उसने देखा की पत्नी घर पर फंदे से लटकी हुई है। उसने उसे नीचे उतारा और तुरंत जीएमसीएच 32 में लेकर गया। जहां पर डॉक्टर ने विवाहिता को मृत घोषित कर दिया। मृतका की दो बेटियां हैं और वह दोनों दूसरे कमरे में खेल रही थीं, उन्हें मालूम नहीं था कि उनके सिर से मां का साया उठ चुका है।

मृतका की पहचान 24 वर्षीय गीता के रूप में हुई है। वहीं सूचना पाकर पहुंचे इंडस्ट्रियल एरिया थाना पुलिस शव को मोर्चरी में रखवा दिया है। पुलिस मामले की जांच करने में लगी है। वहीं इस हादसे के समय उनके दोनों मासूम बेटियां दूसरे वाले कमरे में खेल रही थीं, जिसमें एक की उम्र ढाई वर्ष और दूसरे की डेढ़ वर्ष है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गीता परिवार के साथ सेक्टर 30 स्थित मकान में किराये पर रहती थी। उसका पति शहर में कोई प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता है। उसने बताया कि शनिवार तो सब कुछ घर में ठीक था और उसकी पत्नी ने कोई परेशानी नहीं बताई थी। जबकि रविवार को उसने दूसरे कमरे में फंदा लगाकर जान दे दी। अभी तक की पुलिस जांच में मौके पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

कोरोना रिपोर्ट के बाद पोस्टमार्टम की प्रक्रिया होगी

कानूनी प्रक्रिया के तहत पुलिस ने महिला के मौत की सूचना स्वास्थ्य विभाग की टीम को भी दे दी थी। मौके पर पहुंची टीम ने मृतका के कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया है। जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद ही पुलिस आगे की पोस्टमार्टम प्रक्रिया शुरू करवा सकती है।

Edited By: Ankesh Thakur