जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। चंडीगढ़ में चोरी का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुलझाने में पुलिस नाकाम साबित हुई तो ऑटो यूनियन के सदस्यों ने ही चोरी हुए ऑटो को खुद ढूंढ निकाला। यह चंडीगढ़ की स्मार्ट पुलिस के लिए भी एक सबक है। चोरी हुआ ऑटो जंगल में मिला है। ऑटो के बारे में सूचना मिलने पर ऑटो यूनियन प्रधान अनील, मालिक गौतम सहित दूसरे लोग भी मौके पर पहुंचे और ऑटो मालिक ने अपने वाहन की पहचान भी कर ली है। वहीं, सूचना पाकर संबंधित थाना पुलिस भी पहुंच गई और पुलिस की मौजूदगी में ऑटो को उसके मालिक को सौंप दिया गया।

चंडीगढ़ के साथ सटे मोहाली के नयागांव में रहने वाले गौतम का ऑटो 15 जनवरी को चोरी हो गया था। गौतम ने अपने ऑटो को जीएमएसएच सेक्टर-16 की पार्किंग में पार्क किया था। वहां से थोड़ी देर में ऑटो चोरी हो गया। इसकी सूचना पाकर ऑटो यूनियन के सदस्य और सेक्टर-17 थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने मामले में ऑटो मालिक गौतम की शिकायत के आधार पर जांच की। शिकायत सही मिलने के बाद पुलिस ने ऑटो चोरी होने पर अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज भी किया, लेकिन पुलिस की जांच अभी तक आगे भी नहीं बढ़ पाई थी कि यूनियन के सदस्यों ने ऑटो खोज निकाला।

दरअसल, चंडीगढ़ ऑटो यूनियन के एक सदस्य ने लावारिस ऑटो को मक्खन माजरा स्थित जंगल एरिया में देखा है। उसने आसपास पता किया तो यह जानकारी सामने आई की ऑटो कई दिन से जंगल एरिया में ही खड़ा है। इसके बाद उसने ऑटो के बारे में सूचना यूनियन के प्रधान अनील कुमार को दी। जब यूनियन प्रधान ने आटो की पहचान की तो वह चोरी का निकला। इसके बाद ऑटो के बारे में सोशल मीडिया ग्रुप पर ऑटो के बारे में मैसेज सर्कुलेट किया गया। इसके बाद ऑटो मालिक गौतम को भी मौके पर बुलाया गया। इसके बाद गौतम ने अपने ऑटो को पहचान लिया। हालांकि पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है कि चोरी हुए ऑटो से किसी तरह की वारदात को अंजाम तो नहीं दिया गया है। वहीं, चोरों के बारे में भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है।

Edited By: Ankesh Thakur