चंडीगढ़, जेएनएन। चंडीगढ़ के बुड़ैल में प्रॉपर्टी डीलर सोनू शाह हत्याकांड में गवाह पर फायरिंग मामले में गिरफ्तार गैंगस्टर मोंटी शाह की गिरफ्तारी के बाद अब चंडीगढ़ क्राइम ब्रांच टीम ने उसके एक साथी को राउंडअप कर लिया है। आरोपित की निशानदेही पर मोंटी के अवैध हथियारों की बरामदगी भी हुई है। क्राइम ब्रांच की टीम हिरासत में मोंटी के साथी से पूछताछ करने के साथ हथियारों की रिकवरी करने में लगी थी। हालांकि, क्राइम ब्रांच अधिकारी आरोपित को राउंडअप करने करने के साथ बरामदगी में छापामारी करने का दावा कर रहे थे। आज मोंटी शाह का रिमांड खत्म होने के साथ पुलिस उसके दूसरे साथी की गिरफ्तारी और हथियारों की बरामदगी का खुलासा करेगी।   

सूत्रों के अनुसार मोंटी शाह को ट्राईसिटी में दबदबा बनाने के लिए इसी साथी की मदद लेता था। राउंडअप किया गया आरोपित ही मोंटी को हथियार, कारतूस और दूसरी सुविधाएं भी मुहैया करवाता था। पुलिस टीम सभी तरह के सुबूत को पुख्ता करने के बाद देर रात तक गिरफ्तारी डाल सकती है। वहीं, सेक्टर-43 बस अड्डे के बैक साइड से मोंटी शाह की गिरफ्तारी के दौरान उसके पास भी एक देसी पिस्टल सहित सात कारतूस की बरामद हुए थे। 

बता दें कि 11 अक्टूबर 2020 की देर शाम मोंटी शाह दोनों हाथों में पिस्टल लहराते हुए सोनू शाह के भाई प्रवीण शाह और तीर्थ को जान से मारने की नीयत से बुड़ैल स्थित उनके दफ्तर की तरफ आ रहा था। यह दोनों सोनू शाह हत्याकांड के गवाह भी हैं। वहीं, दफ्तर की ओर जा रहे तीर्थ ने मोंटी शाह को पिस्टल के साथ आते हुआ देख लिया था। गोलियां चलाकर भागने वाले मोंटी पर प्रवीण की शिकायत के आधार पर हत्या की कोशिश, धमकाने, ऑर्म्स एक्ट की धाराओं में केस दर्ज हुआ था। सेक्टर-34 थाना पुलिस ने मोंटी पर 50 हजार का इनाम भी घोषित भी किया था।