जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। नगर निगम चुनाव नजदीक आते ही अब राजनीतिक दलों की आरोप प्रत्यारोप की राजनीति भी शुरू हो गई है। कोई भी पार्टी किसी भी मुद्दे पर विरोधियों को घेरने के पीछे नहीं हटना चाहती है। इन दिनों चंडीगढ़ भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच जमकर बयानबाजी हो रही है। दोनों दलों को नेता शहर के कार्यों को लेकर घेरने में लगे हुए हैं। 

भाजपा ने पहली बार आम आदमी पार्टी को लेकर बयान जारी किया है। भाजपा ने आप नेता चंद्रमुखी शर्मा द्वारा  दिए गए बयान पर कहा है कि सेवा भाजपा के संस्कार में शमिल है। जबकि ओछी राजनीति करने के उद्देश्य से बयान देने वाले नेता की पार्टी कोरोना काल मे कहीं नजर नहीं आई। भाजपा प्रवक्ता कैलाश चंद जैन और नरेश आरोड़ा ने संयुक्त बयान में कहा कि भाजपा का हर कार्यकर्ता कोरोना काल में अपनी जान की परवाह किए बिना सेवा ही संगठन के तहत  लगातार सेवा में लगा रहा। चंडीगढ़ की कोई भी राजनीतिक पार्टी जिस समय कहीं सड़कों पर दिखाई नहीं दी। उस समय सिर्फ भाजपा का कार्यकर्ता ही लोगों के लिए सेवा कार्य में लगे हुए थे, इसका प्रमाण देने की जरूरत नहीं है।

नरेश अरोड़ा ने कहा कि आम आदमी पार्टी अपना एक भी काम का प्रमाण दे जो लोगों की सहायता के लिए कोरोना काल में उन्होंने किया हो। ऐसे में आप को इस  महामारी में छोटी राजनीति करना शोभा नहीं देता। उन्होंने कहा कि सेवा ही संगठन के तहत शहरवासियों के हर प्रकार के सेवा कार्य किए। इस बयान के तहत भाजपा ने कोरोना काल में किए गए कार्यों को एक बार फिर से गिना दिया। उन्होंने कहा कि 52 किचन रोजाना चलाकर 72 हजार के करीब लोगों को भोजन उपलब्ध करवाया गया। प्रवासी मजदूरों के जाने की व्यवस्था चंडीगढ़ प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद ने खुद अपनी देखरेख में की। यहां तक की नंगे पैर जाने वाले प्रवासियों को चप्पले भी दी। जब बापूधाम और सेक्टर-30 जैसे कंटोनमेंट एरिया में जब कोई जाने को तैयार नहीं था तो भाजपा के कार्यकर्ता ही वहां पर जाकर सेवा कार्य करते रहे और लोगों की जरूरतों का सामान पहुंचाते रहे।

महामारी के कारण जब अस्पतालों में खून की कमी हो गई तो उसी समय रक्तदान कैंप लगाए और सैकड़ों यूनिट खून इकट्ठा किया। कोरोना की दूसरी लहर में 24 घंटे चलने वाला हेल्पलाइन नंबर भारतीय जनता पार्टी की तरफ से जारी किया गया, जिसमें 16 तरीके की सहायता जनता के लिए शुरू की गई। इसमें ऑक्सीजन, दवाइयां, भोजन, सेनिटाइजर, मास्क, ऑक्सीमीटर, काढ़ा तक लोगों के घरों पर पहुंचाया गया। हॉस्पिटल में बेड की व्यवस्था भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा लगातार कराई गई।

Edited By: Ankesh Thakur