चंडीगढ़, जेएनएन। व्यापारी नेता व प्रदेश भाजपा प्रवक्ता कैलाश चंद जैन ने नगर निगम से व्यापारियों को राहत देने की मांग की है। इस बाबत उन्होंने चंडीगढ़ उद्योग व्यपार मंडल की तरफ से मेयर राजबाला मलिक और सभी पार्षदों को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि 29 अक्टूबर को होने वाली निगम सदन की बैठक में चर्चा कर कोविड महामारी की वजह से नुकसान झेल रहे व्यापारियों को अतिक्रमण विरोधी दस्ते से राहत दी जाए। उन्होंने ज्यादा सख्ती ना बरते जाने की पैरवी की है।

जैन का कहना है कि कोरोना महामारी की वजह से व्यापारी, खासतौर से छोटे व्यापारी, काफी प्रभावित हुए हैं। दूसरी ओर नगर निगम का अतिक्रमण हटाओ दस्ता व्यपारियों के साथ हमदर्दी दिखाने के बजाए अधिक सख्ती बरत रहा है। कोरोना से पहले की तुलना में वर्तमान में चालान की संख्या करीब तीन गुणा अधिक हो गई है। हकीकत में इस समय कोरोना के कारण भारी नुकसान झेल रहे दुकानदारों को राहत मिलनी चाहिए थी।

कारोबार अब धीरे-धीरे पटरी पर आना शुरू हो गया है लेकिन अतिक्रमण विरोधी दस्ते ने ज्यादा सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। यहां तक कि दुकानों विशेषकर औद्योगिक क्षेत्रों में समान लोडिंग-अनलोडिंग कर रहे दुकानदारों का भी चालान कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि वह अतिक्रमण पर कार्रवाई के खिलाफ नहीं हैं। पर यदा-कदा सामान बाहर निकलाने वाले व्यापारियों को अलग कैटेगिरी मानकर व्यवहार किया जाए।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!