संवाद सहयोगी, नयागांव, (मोहाली): पटियाला की राव नदी में आए तेज उफान में रविवार शाम गांव टांडा के एक ही परिवार के चार लोग बह गए। इस दौरान पिता पंच सज्जन सिंह और माता सुनिता लापता हो गए थे, जबकि बेटी मंजू और बेटे काकू को ग्रामीणों ने बचा लिया था। वहीं अब लगभग 35 किलोमीटर दूर बलोंगी थाना क्षेत्र से सुनीता की लाश मिली है। गावंवासियों ने इस संबंध में पुलिस को सूचना दी, लेकिन करीब पांच घंटे तक कोई न पहुंचा। वहीं अब गांववासी शव को नयागांव ले जाकर चौक पर रख अपनी नाराजगी जाहिर करेंगे। 

बता दें कि, शाम करीब सात बजे दिहाड़ी करने वाले लोग घर वापस लौटते समय पुलिया पार कर रहे थे। इस दौरान पानी का तेज बहाव उन्हें अपने साथ पटियाला की राव नदी में बहा ले गया। प्रशासन की लापरवाही का यह दूसरा मामला सामने आया है। इन लोगों के अलावा पटियाला की राव नदी के बहाव में एक अन्य कार भी बह गई। हालांकि लोगों ने कार सवार चारों लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

6 जुलाई को पटियाला की राव नदी में वर्षा के दिनों में पानी का बहाव अचानक बढ़ जाने से एक कैब भी बह गई थी, जिसमें सवार युवती पूजा का शव 24 घंटे बाद 12 किलोमीटर दूर धनास से बरामद हुआ था। वहीं ड्राइवर राकेश कुमार निवासी मुक्तसर का शव 48 घंटे बाद मिला था।

ग्रामीणों ने बताया कि नदी हरियाणा की तरफ से गुजरती है। पंजाब वाले हिस्से में दाखिल होने के लिए पुलिया का इंतजाम नहीं किया हुआ है। दूसरी ओर गांव के स्थानीय लोग रोज अपने कार्यों के लिए जाते हैं और शाम को लौटते समय अपनी जान जोखिम में डालकर रास्ते को पार करते हैं। ग्रामीणों ने प्रशासन को हादसे की जानकारी दी।  

यह भी पढ़ेंः- Independence Day 2022: पंजाब में स्‍वतंंत्रता दिवस पर समाराहों की धूम , सीएम भगवंत मान ने लु‍धियाना में फहराया तिरंगा

Edited By: Deepika