सुमेश ठाकुर, चंडीगढ़। CBSE 12th Result: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) का 12वीं कक्षा परिणाम आज घोषित हो चुका है। ऐसे में चंडीगढ़ के सेक्टर-26 स्थित ब्लाइंड इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट अमृतपाल सिंह ने 94.8 फीसद अंक हासिल कर इंस्टीट्यूट में टाॅप किया है। अमृतपाल सिंह दृष्टिहीन हैं और वह देख नहीं सकते। बावजूद उन्होंने वह कारनामा करके दिखाया है जो एक आम स्टूडेंट के लिए कर पाना भी मुश्किल है।

बता दें कि अमृतपाल ने 10वीं कक्षा में भी संस्थान में टॉप किया था। इससे पहले वर्ष 2019 में घोषित हुए दसवीं के परिणाम में भी अमृतपाल ने 95 फीसद से ज्यादा अंक हासिल करते हुए इंस्टीट्यूट में पहला स्थान हासिल किया था। अमृतपाल के पिता बलदेव सिंह चंडीगढ़ पुलिस में सब इंस्पेक्टर के तौर पर मौलीजागरां में तैनात हैं।

टीचर या आइएएस बनने का है सपना

अमृतपाल ने बताया कि मुझे पढ़ाई का शौक है। वह रोजाना आठ से दस घंटे पढ़ाई करते हैं। अलग-अलग जगह के बारे में जानने की रूचि रखते हैं। अमृतपाल ने बताया कि अभी पहले ग्रेजुएशन करना चाहता हूं, उसके बाद बीएड करके स्टूडेंट्स को पढ़ाने का भी तमन्ना है। ग्रेजुएशन करने के साथ यूपीएसई की भी तैयार करूंगा यदि मैं सिविल एग्जाम में पास हुआ तो आउएएस बनकर लोगों की सेवा करना चाहूंगा। पढ़ाई के बारे में अमृतपाल ने बताया कि लगातार पढ़ना और उसमें अलग-अलग सीखने का मजा आता है। इसलिए मैं लगातार पढ़ाई करता हूं और परिवार का पूरा सहयोग मिलता है। कभी भी मुझे पढ़ने से रोका नहीं जाता है।  

पढ़ाई पर रहेगा फोकस

अमृतपाल के पिता बलदेव सिंह ने बताया कि इसे कुछ बनाने से पहले जरूरी है कि इसकी पढ़ाई पूरी हो। इसे पढ़ने का शौक है इसलिए मेरा प्रयास है कि इसे ज्यादा से ज्यादा पढ़ाई करवाई जाए। इसके अलावा इसे जीवन में जो भी मुकाम हासिल करना है मैं और मेरा परिवार इसके साथ है, रास्ता यह खुद तय करेगा।

Edited By: Ankesh Thakur