जेएनएन, लालड़ू। पुलिस और आबकारी व कराधान विभाग ने संयुक्त रेड कर सितारपुर रोड के पास जाली देसी शराब बनाने की एक अवैध फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। यह शराब पंजाब, हरियाणा, उत्तरप्रदेश समेत दिल्ली सप्लाई की जाती थी। विभाग ने यहां बड़ी मात्रा में अवैध शराब समेत इसे बनाने वाला साजोसामान भी बरामद किया है। फैक्ट्री में मौजूद तीन से चार कारीगरों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

एसएसपी हरचरण सिंह भुल्लर व आबकारी विभाग के एआइजी गुरचैन सिंह धनोआ ने बताया कि यह फैक्ट्री हफ्ता पहले ही चालू हुई थी। इस गिरोह के सरगना पटियाला के गोबिंद एन्क्लेव का हरमिंदर सिंह मंगा चड्ढा, लवण शर्मा एसएसटी नगर और नारायणगढ़ निवासी अंबाला, हरियाणा का वीडियो डायरेक्टर जेडी बताए गए हैं। सरगना के खिलाफ पहले से संगरूर में तीन केस एसएसपी हरचरण सिंह भुल्लर ने बताया कि हरमिंदर उर्फ मंगा चड्ढा पर पहले भी संगरूर जिले में नकली अंग्रेजी शराब बनाने के तीन मुकदमे दर्ज हैं। केमिकल्स समेत शराब की सैंपलिंग की जाएगी। वीडियोग्राफी के बीच इन्वेंटरी स्टॉक लेकर उसे सीज किया जा रहा है। इस कार्रवाई में पटियाला से डिप्टी कमिश्नर डिस्टलरीज नरेश दूबे, अभिषेक दुग्गल, एईटीसी परमजीत सिंह व विश्वजीत भंगू भी मौजूद थे।

छह माह पहले भी पकड़ी गई थी शराब

शराब बनाने वाले साजोसामान में 5000 लीटर के दो टैंक समेत तैयार जाली शराब की 1000 पेटियां, टाटा 407 ट्रक, 83600 लेबल देसी शराब के, 69048 देसी शराब पंजाब के होलोग्राम, 6,27,000 ढक्कन, 14 ड्रम अंग्रेजी शराब तैयार करने का आइएमएफएल ब्लेंड, 5 ड्रम ईएनए, दो ड्रम कैरामल, 50 लीटर इसेंस, शराब तैयार करने और भरने के लिए चार मशीनें, एक जेनरेटर और मिनी बस बरामद की गई है। इससे छह महीने पहले अंबाला-चंडीगढ़ हाईवे पर घोलूमाजरा में स्थापित दोमंजिला फैक्ट्री से भी बड़ी संख्या में नकली शराब मिली थी। करोड़ों रुपये का सामान भी बरामद किया गया था। फैक्ट्री सालभर से चल रही थी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप