जेएनएन, मोहाली (चंडीगढ़)। पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता और आम आदमी पार्टी के नेता सुखपाल सिंह खैहरा ने कहा कि स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के रोड रेज मामले में कैप्‍टन सरकार दोहरे मापदंड अपना रही है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह चाहते हैं कि सिद्धू को सजा मिले।

यहां पत्रकारों से बातचीत में खैहरा ने कहा कि कैप्‍टन अमरिंदर सिंह अपने बराबर किसी को नहीं देखना चाहते। इसलिए कैप्टन लोगों के सामने कुछ व नवजोत सिंह सिद्धू के सामने कुछ और हैं। खैहरा ने कहा कि कैप्‍टन अमरिंदर अपनी राजन‍ीति की राह से सिद्धू को किसी भी तरह हटाना चाहते हैं।

कैप्टन के पास एडवाइजरों व वकीलों के लिए पैसे हैं, जनता के लिए नहीं

खैहरा ने प्रदेश सरकार की ओर से बिजली के बिलों में की जा रही बढ़ोतरी की जमकर निंदा की। उन्होंने बिजली बिलों में की जा रही बढ़ोतरी को लोगों की जेब पर बोझ बताया।खैहरा ने कहा कि मुख्यमंत्री के पास अपने एडवाइजरों व सुप्रीम कोर्ट में वकीलों को देने के लिए पैसे हैं, लेकिन कर्मचारियों को देने के लिए वेतन नहीं।

उन्‍होंने कहा कि कैप्‍टन सरकार का रुख लोगों व कर्मचारियों के प्रति बहुत दुखदायी है। एक साल के अंदर-अंदर कर्मचारियों से लेकर लोगों को सड़कों पर आना पड़ा। यह बाबुओं की सरकार है। हर फ्रंट पर सरकार फेल हो रही है। अमरिंदर सरकार तरह-तरह के टैक्स लोगों पर थोप रही है। सवाल के जवाब में खैहरा ने कहा कि सिद्धू के दौरे से पंजाब की सभी बिल्डिंगें ठीक नहीं हो जाएंगी। जीरकपुर में बिल्डिंग गिरने जैसा हादसा पंजाब में कहीं भी हो सकता है, क्योंकि ज्यादातर बिल्डिंगें कमजोर हाल में हैं।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!